ब्लड शुगर लेवल इस समय चेक करें अपना ब्लड शुगर लेवल, पाएं

183

मधुमेह एक प्रकार का चयापचय विकार है, जिसमें रक्त शर्करा के स्तर की निगरानी करना बहुत महत्वपूर्ण होता है। जब शरीर में अग्न्याशय हार्मोन इंसुलिन का उत्पादन कम हो जाता है या ठीक से उपयोग नहीं किया जाता है, तो व्यक्ति को मधुमेह होने की संभावना होती है। इंसुलिन एक हार्मोन है जो रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है। शरीर में उच्च रक्त शर्करा के स्तर से दिल का दौरा, गुर्दे की विफलता और यकृत की विफलता का खतरा भी बढ़ जाता है।

इसलिए स्वास्थ्य विशेषज्ञ मधुमेह रोगियों को सलाह देते हैं कि समय-समय पर अपना ब्लड शुगर लेवल चेक करते रहें।

ब्लड शुगर लेवल रेंज:

एक स्वस्थ शरीर का सामान्य फास्टिंग ब्लड शुगर लेवल 70 से 150 mg/dl होता है।

प्री मील शुगर लेवल 90-130 mg/dl होना चाहिए।

वहीं खाने के 2 घंटे बाद नॉर्मल ब्लड शुगर लेवल 140mg/dl होना चाहिए।

साथ ही रात को सोने से पहले इसका स्तर 90-150 mg/dl के बीच होना चाहिए।

मधुमेह रोगियों में 200 से 400 mg/dl के बीच रक्त शर्करा का स्तर खतरनाक माना जाता है।

ब्लड शुगर लेवल कैसे चेक करें:
बाजार में कई पोर्टेबल ग्लूकोज मीटर उपलब्ध हैं, जो आसानी से घर पर ब्लड शुगर लेवल की जांच कर सकते हैं। ग्लूकोमीटर के साथ, एक उंगली से रक्त खींचकर एक लैंसेट पर रखा जाता है, जो 15 सेकंड के भीतर आपके ग्लूकोज का स्तर बता देता है।

कब करें ब्लड शुगर लेवल की जांच:
मधुमेह रोगियों के लिए दिन में एक बार अपने ब्लड शुगर लेवल की जांच करना बहुत जरूरी है। खाने से पहले, व्यायाम से पहले, रात को सोने से पहले और गाड़ी चलाने से पहले रक्त शर्करा के स्तर की जाँच की जा सकती है।

एक निश्चित समय होना बहुत जरूरी है
मधुमेह रोगियों के लिए भोजन का एक निश्चित समय होना बहुत जरूरी है। रात का खाना देर से न खाएं, सोने से दो घंटे पहले रात का खाना खा लें। साथ ही रोगियों को रात के समय चावल खाने से बचना चाहिए।

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.