बहुत अधिक या बहुत कम नमक खाना दोनों के लिए हानिकारक है

166

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए रोजाना विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों और खनिजों की आवश्यकता होती है। इन पोषक तत्वों की कमी या अधिकता से गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। सोडियम एक ऐसा आवश्यक तत्व है। सोडियम को नमक का प्रमुख घटक माना जाता है। शरीर में इसकी कमी या अधिकता (नमक के सेवन की अधिक या कम मात्रा के दुष्प्रभाव), दोनों ही विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं (नमक का सेवन) को जन्म दे सकते हैं।

अधिक नमक के सेवन से उच्च रक्तचाप बढ़ता है और गंभीर मामलों में हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है। इसकी कमी से शरीर को गंभीर कमजोरी और थकान का अनुभव हो सकता है (अधिक नमक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक)।

शोध से पता चला है कि जो लोग बहुत अधिक नमक खाते हैं, उनमें हृदय रोग और मस्तिष्क संबंधी विभिन्न जटिलताओं (अधिक नमक के सेवन के दुष्प्रभाव) विकसित होने की संभावना अधिक होती है। इसलिए विशेषज्ञ सभी लोगों को नियंत्रित मात्रा में इसका सेवन सुनिश्चित करने की सलाह देते हैं। हालांकि नमक का सेवन बिल्कुल भी बंद नहीं करना चाहिए। ऐसा करना आपकी सेहत के लिए भी मुश्किल हो सकता है। आइए इसे और अधिक विस्तार से समझते हैं (दैनिक आहार में अतिरिक्त नमक के हानिकारक प्रभाव)।

कितना सोडियम लेना है? 

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि सभी लोगों को अपने दैनिक आधार पर सोडियम की मात्रा पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के विशेषज्ञों के अनुसार एक दिन में अधिकतम 2,300 मिलीग्राम या लगभग 1 चम्मच नमक का सेवन किया जा सकता है। याद रहे इसकी कमी और अधिकता दोनों ही हानिकारक होती है। ज्यादातर पैकेज्ड या जंक फूड में नमक की मात्रा अधिक हो सकती है, इसलिए इनके सेवन में सावधानी बरतें।

सोडियम स्तर:

अत्यधिक सोडियम के सेवन से ऑस्टियोपोरोसिस, किडनी की बीमारी और उच्च रक्तचाप जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इस स्थिति से हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा भी बढ़ जाता है। शोधकर्ताओं ने पाया है कि जो बच्चे अधिक नमकीन खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं, उनमें भी मीठा पेय या मिठाई खाने का खतरा बढ़ जाता है, जिससे मोटापा हो सकता है। पैकेज्ड चिप्स व अन्य चीजों से सोडियम की खपत बढ़ने का खतरा रहता है।

सोडियम की कमी :

शरीर में सोडियम की कमी भी आपके लिए समस्या को बढ़ा सकती है। नतीजतन, कमजोरी, थकान और चक्कर आना जैसी समस्याएं सबसे आम हैं।

कुछ मामलों में, विशेषज्ञों द्वारा लगातार सोडियम की कमी को कई अन्य बीमारियों का कारण माना जाता है।

एडिसन रोग

छोटी आंत की रुकावट

दस्त और उल्टी

थायरॉइड समस्या.

दिल की अनियमित धड़कन।

खाने में नमक कम रखें:
ध्यान रखें कि स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार सभी को उच्च सोडियम के सेवन से बचना चाहिए। हो सके तो खाने में नमक डालने से बचें। नमक मिलाने से कई तरह के दुष्प्रभाव हो सकते हैं। अगर सोडियम की अधिकता या कमी के कारण समस्या होती है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

(अस्वीकरण : हम इस लेख में निर्धारित किसी भी कानून, प्रक्रिया और दावों का समर्थन नहीं करते हैं।
उन्हें केवल सलाह के रूप में लिया जाना चाहिए। ऐसे किसी भी उपचार/दवा/आहार को लागू करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है।)

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.