अस्थमा के मरीज है तो एक बार जरूर पढ़े, बचाव के लिए करें डाइट में बदलाव

0 686
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

आयुर्वेद के मुताबिक अस्थमा से बचने के लिए कुछ आसान और सरल उपाय अपनाए जा सकते है:

उपाय:

  • परफ्यूम, डियो से परहेज करें|
  • छींकते समय रुमाल का प्रयोग करें|
  • जुखाम में लापरवाई ना बरते|
  • धूल-मिट्टी, रुई, पक्षियों के पंख और जानवरो के बालो के संपर्क में आने से बचें|
  • सभी प्रकार के सक्रमण से बचें|
  • फूलो के परागकणों को सांस के साथ अन्दर जाने से रोकें|

खाने में ध्यान रखने योग्य बाते:

  • मोटे पिसे आटे की रोटियां, दलिया की खिचड़ी लाभदायक है|
  • आयुर्वेद के मुताबिक अस्थमा में हल्का और जल्दी पचने वाला भोजन जैसे मूंग, मसूर की दाल ले|
  • अदरख, सोया, टिंडे का भोजन में अधिक से अधिक प्रयोग करें|

व्यायाम और योग से बचाव संभव:

  • स्थायी रूप से अस्थमा को दूर रखने के लिए रोगी को दिन रात ज्यादा से ज्यादा श्वांस योग करना होगा|
  • दायां स्वर या सूर्य स्वर (अर्थात दाहिने नथुने से सांस का निकलना) चलाने का अभ्यास करना चाहिए, जैसे सुबह उठते समय, रात्रि सोते समय।
  • सूर्य स्वर कफशामक होने के साथ जठराग्निवर्धक भी है जिससे दमा शांत होता है।
  • यदि भोजन भी स्वर शास्त्र के नियमानुसार किया जाए तो निश्चय दमे का रोग नष्ट हो जाता है।
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.