शहद में भिगोकर करें आंवले का सेवन, बांझपन समेत इन 6 समस्याओं में होगा लाभ

451

Amla and Honey Health Benefits: आंवला औषधीय पोषक तत्वों से भरपूर एक ऐसा फल है, जिसका प्रयोग कई प्रकार के रोगों के उपचार में किया जाता है। इसे इंडियन गूसबेरी भी कहा जाता है। वैसे तो आंवले का सेवन कई विधियों से किया जाता है, लेकिन शहद के साथ इसको खाने से इसके फायदे कई गुना बढ़ जाते हैं। आंवले एवं शहद के मिश्रण से तैयार मिश्रण एक अद्भुत औषधि होता है। इस औषधि का सेवन हमारे शरीर के विभिन्न अंगों के लिए लाभप्रद होता है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको शहद में भिगोकर आंवले के सेवन की से होने वाले कुछ बेहतरीन फायदों के बारे में बताएंगे।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

1. रोगरोधक क्षमता बढ़ाए

आंवला विटामिन सी से भरपूर होता है, जिससे यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायता करता है। वहीं शहद भी हमें विभिन्न प्रकार के रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है। ऐसे में इन दोनों के मिश्रण का सेवन करने से शरीर की रोग प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है, जिससे हमारा शरीर हर तरह की बीमारी से लड़ने में सक्षम होता है। इसके अलावा यह सर्दी जुकाम, गले की खराश एवं फ्लू जैसी समस्या में भी लाभकारी होता है।

2. बालों के लिए उत्तम औषधि –

हम जानते हैं कि आंवला हमारे बालों के लिए उत्तम औषधि होता है। वहीं शहद एक अच्छे मॉइश्चराइजर का कार्य करता है। ऐसे में इन दोनों के साथ सेवन करने से हमारे बाल चमकदार एवं जड़ें मजबूत हो जाती हैं। इससे बालों का झड़ना कम होता है। साथ ही साथ बालों की जड़ें मजबूत होने से वे तेजी से बढ़ते भी हैं। केवल इतना ही नहीं, इससे बालों का असमय सफेद होना भी रुक जाता है। साथ हीं साथ स्कैल्प का सूखापन भी दूर होता है।

loading...

colors used in holi can take you life , see how

3. सांस की तकलीफ दूर करे –

आंवला एवं शहद का मिश्रण श्वास संबंधी रोग जैसे अस्थमा, सांस फूलना एवं कफ आदि जैसी समस्याओं को भी दूर करने में कारगर होता है। यह औषधि इन समस्याओं का एक पारंपरिक उपचार भी है। यह श्वसन नली को साफ करने में सहायता करता है, जिससे सांस लेने में होने वाली तकलीफ दूर होती है।

4. बांझपन दूर करने में सहायक –

यह औषधि पुरुषों में स्त्री दोनों की जनन् शक्ति को बढ़ाने में भी कारगर होता है। यह जनन् अंगों की कार्यविधि सुधारने का काम करता है। एक ओर जहां ये पुरुष के सूक्र की गुणवत्ता सुधारने में सहायता करता है। वही स्त्रियों के गरभाशय को मजबूत बनाकर गरभ् धारण में भी सहायता करता है।

If you have this symptom then be careful, heart disease may occur ह्रदय रोग

5. हृदयाघात से बचाए –

आंवले एवं शहद की ये औषधि हमारे हृदय के लिए भी अत्यंत स्वास्थ्यप्रद होती है। इसके सेवन से शरीर में मौजूद खराब कोलेस्ट्रोल का स्तर कम होता है और यह उसे नियंत्रित भी करता है, जिससे ह्रदयाघात का खतरा कम होता है। केवल इतना ही नहीं, इस औषधि से वजन कम करने में भी सहायता मिलती है। आंवले को शहद में भिगोकर या इसका मुरब्बा तैयार करके भी आप इसका सेवन कर सकते हैं।

6. बढ़ती उम्र के लक्षण कम करे –

आंवला एवं शहद का मिश्रण बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करने का काम करता है। इसके सेवन से मर मुरझाई हुई त्वचा में भी नई जान आती है। ये कोशिकाओं को पुनर्जीवित करने में सहायता करता है, जिससे झुर्रियां कम होती है, त्वचा का लचीलापन बढ़ता है, उनमें चमक आती है और हमारी स्किन मुलायम रहती है। शहद पिगमेंटेशन को भी कम करता है। इसके अलावा इसमें उपस्थित एंटीऑक्सीडेंट्स ऑक्सीकरण से होने वाले नुकसान को कम करते हैं।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.