दूध में केसर मिलाकर पीने से जो होता है वो कभी किसी से नहीं होगा गर्भावस्था के दौरान इस चीज का करें सेवन

1,816

अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो आपको अब तक कई लोगों से यह सलाह मिल चुकी होगी कि आपको गर्भावस्था में केसर वाला दूध पीना चाहिए या फिर किसी दूसरे तरह से भी केसर का सेवन करना चाहिए क्योंकि केसर खाने से होने वाले बच्चे का रंग गोरा होता है। आप इस बात पर भले ही यकीन ना करती हों लेकिन प्रेग्नेंसी में केसर का सेवन करना बेहद फायदेमंद है और यह प्रेग्नेंसी से जुड़े कई लक्षणों के साथ डील करने में आपकी मदद करता है।

loading...

Drinking saffron in milk will never be from anyone to use this thing during pregnancyहालांकि कई दूसरी चीजों की ही तरह प्रेग्नेंसी में केसर खाने के फायदे भी हैं और कुछ नुकसान भी। अगर आपको इस बात की जानकारी नहीं है कि गर्भावस्था के दौरान कितनी मात्रा में केसर का सेवन करना चाहिए तो यह आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

गोल्डन स्पाइस यानि केसर का करें इस्तेमाल

​प्रेग्नेंसी में दूध में केसर का सेवन करना चाहिए। प्रेग्नेंसी में केसर का सेवन करना पूरी तरह से सेफ है क्योंकि गोल्डन स्पाइस के नाम से मशहूर केसर में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं। केसर, प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले स्ट्रेस को कम करता है, मूड स्विंग्स की समस्या को दूर करता है, किसी भी तरह के दर्द या तकलीफ को दूर करने में मदद करता है।

हालांकि प्रेग्नेंसी में केसर यूज करते वक्त आपको कई तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए। साथ ही केसर का सेवन प्रेग्नेंसी के 3 महीने के बाद से ही करना शुरू करें। प्रेग्नेंसी के शुरुआती 3 महीने में केसर का सेवन ना करें। प्रेग्नेंसी के दौरान बहुत सी महिलाओं का हार्ट रेट करीब 25 प्रतिशत तक बढ़ जाता है जिस वजह से ब्लड प्रेशर ऊपर-नीचे होने लगता है। प्रेग्नेंसी में अगर ब्लड प्रेशर ज्यादा बढ़ जाए तो प्रीक्लैम्प्सिया की भी दिक्कत हो सकती है। ऐसे में केसर जिसमें पोटैशियम और क्रोसेटिन होता है ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है। लिहाजा प्रेग्नेंसी में केसर का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.