हर प्रकार की कमजोरी एक ही बार में दूर कर देती है ये चीज, कमजोर पुरुष जरूर पढ़ें

3,196

1. कौंच बीज के पारउडर का उपयोग करने से अच्‍छी नींद आती है। डोपामाइन के स्‍तर का बहुत अधिक बढ़ना हमारे लिए विपरीत प्रभाव छोड़ सकता है, इसलिए इसका सेवन कम मात्रा में करना चाहिए।

सोने से पहले उपयोग करने पर यह बहुत ही लाभकारी होता है।

  1. कौंच के बीज और जड़ को समान मात्रा में लेकर इनको पीसकर चूर्ण बना लें और इसमें बराबर मात्रा में चीनी मिलाकर एक शीशी में भरकर रख लें।

यह चूर्ण 10 ग्राम की मात्रा में प्रतिदिन दूध के साथ लेने से शारीरिक शक्ति बढ़ती है।

कौंच बीज के पारउडर

  1. कौंच की सूखी फली को बेहोश व्यक्ति के शरीर पर रगड़ने से बेहोशी दूर होती है।

बेहोशी दूर होने पर गाय के घी से रोगी के शरीर की मालिश करें।

इससे कौंच का जहर उतर जाता है।

  1. शहद व अदरक का रस 1-1 चम्मच और कौंच के बीजों की गिरी आधी चम्मच।

इन सभी को एक साथ पीसकर चूर्ण बना लें और इसका सेवन सुबह-शाम करें। इससे दमा रोग में आराम मिलता है।

5. वजन बढ़ने या मोटापे की समस्या से आजकल लगभग हर दूसरा व्यक्ति परेशान है।

बिगड़ी जीवनशैली व गलत डाइट के कारण यह समस्या आम है।

इस स्थिति में सही डाइट और व्यायाम तो जरूरी है ही, लेकिन अगर साथ में कौंच का सेवन किया जाए,

तो यह लाभकारी हो सकता है। कौंच मोटापे को कम करने के लिए मददगार साबित हो सकता है,

क्योंकि यह एंटी-ओबेसिटी प्रभाव डालता है ।

  1. शरीर को तंदुरुस्त रखने के लिए कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट की जरूरत होती है।

यह बीमारियों से शरीर का बचाव करता है। इसलिए, जरूरी है कि ऐसे खाद्य पदार्थों का चुनाव करें, जिनमें एंटी-ऑक्सीडेंट गुण मौजूद हों।

कौंच का बीज उन्हीं में से एक है। यह न सिर्फ टीएं-ऑक्सीडेंट,

बल्कि एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भी भरपूर है। इसलिए, यह स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है ।

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.