बिल्लियों का शिकार ज्यादातर कौन से जानवर बनते हैं ?

1 25

ज़्यादातर लोग सोचते है कि जानवर उसी का शिकार करते है जो या तो जवान हो, या बूढ़ा हो या फिर बिमार हो। क्योंकि उन जानवरों के लिए परभक्षी से बच पाना मुश्किल होता है। अभी तक इस बात का कोई प्रूफ नहीं था। पर अभी हाल ही में पेरिस के फ्रेंच वैज्ञानिक ने इस बात को साबित कर दिया है। उन्होंने अपनी रिर्पोट में बताया है कि कैसे जानवर कमज़ोर जानवर का शिकार करते है।
सबसे पहले वैज्ञानिकों ने घरेलू बिल्लियों के शिकार पर नज़र रखनी शुरु की। उन्होंने बिल्ली द्वारा मारे गए पक्षियों और हादसे में मारे गए पक्षियों के आधार पर पक्षियों का स्वास्थ्य जानने की कोशिश की। फिर उन्होंने शरीर के एक अंग ‘स्पलीन’ पर काम करना शुरु किया। वैज्ञानिकों ने स्पलीन को एक कारण के लिए चुना था। वैज्ञानिकों का कहना है कि जिस पक्षी का स्पलीन बड़ा होता है वह पक्षी तंदुरुस्त होता है। स्पलीन पक्षियों के प्रतिरक्षी तंत्र को ताकतवर बनाता है। तो स्पलीन के आकार से वैज्ञानिकों ने पता किया कि बिल्लियों द्वारा मारे गए पक्षी तंदुरुस्त होते है या फिर बीमार?


उन्होंने 18 तरह की अलग-अलग किस्मों में से करीब 500 पक्षियों पर खोज की और उन्होंने देखा कि जो पक्षी बिल्ली द्वारा खाए गए थे, उनका स्पलीन छोटा था। इसका मतलब है कि वो ज़्यादा तंदुरुस्त नहीं थे। और एक्सीडेंट में मारे गए पक्षियों के स्पलीन इन पक्षियों से तीन गुना बड़े थे।
बिल्ली द्वारा मारे गए सारे पक्षी ज़्यादातर जवान होते है। तो ये सच है कि जवान, बूढ़े और बीमार पक्षियों को बिल्लियों से ज़्यादा खतरा होता है।

loading...

loading...