पुरानी सोने की चैन फिर से चमकदार बनाने के सरल उपाय

613

पुराने जमाने से ही सोने का उपयोग महिलाओ की सुन्दरता बढ़ाने के लिए किया जा रहा है. दुनिया की हर महिला को सोने के गहनों का शौक जरूर होता है. महिलाएं कुछ गहने जैसे की अंगूंठी, कानो में के ईयर रिंग और मंगल सूत्र आदि रोज पहनकर रखती है. ऐसे में धूल मिट्टी और पसीने लगातार लगते रहने की वजह से चैन डल पड़ने लगता है. ज्यादातर महिलाएं उसे ज्वेलर से साफ़ नहीं करवाना चाहती है, क्योंकि उसे साफ़ करवाने का खर्चा बहुत ज्यादा होता है. आज में आपको कुछ ऐसे उपाय बताउंगी जिससे आप अपनी सोने की चैन या किसी अन्य सोने की चीज को घर पे साफ़ कर सकती है.

निम्बू से आप आसानी से अपनी सोने की चैन पर जमा सारा मेल निकाल सकती है. पहले आधा कटोरी पानी लेकर उसे अच्छे से गरम कर लें, उसके बाद उसमे २-३ चम्मच निम्बू का रस डालकर अपनी चैन को उसमे १० मिनट तक छोड़ दे. उसके बाद ब्रश से हलके हाथों से चैन को रगड़े और बाद में साफ़ पानी से धोकर सुखने दे.

loading...

रीठा का उपयोग करके आप अपने हर सोने के आभूषणों को आसानी से चमका सकते हैं. इसके लिए आप सबसे पहले रीठा को पानी में डाल दें और साथ में अपनी सोने की चैन को भी डालकर अच्छे से उबाल लें. फिर उसे निकाल कर अच्छे से साफ़ कर लें. आपको इसका असर साफ दिखाई देगा.

हल्दी का उपयोग करने भी आप अपनी सोने की चैन को फिर से चमका सकते हैं. इसके लिए आप एक कटोरी में पानी के साथ २ चम्मच हल्दी मिलाकर उसे गरम कर लें. फिर अपनी चैन को उसमे २-३ मिनट तक रखे. उसके बाद ब्रश की मदद से अपनी चैन को साफ़ कर लें. फिर साफ़ पानी से चैन को धोकर सूखा लें.

अच्छी गुणवत्ता का एक चम्मच डिटर्जेंट पाउडर, एक चम्मच अमोनिया और आधा कटोरी गुनगुना पानी मिलाकर अच्छे से मिक्स कर लें. बाद में उसमें अपनी चैन को ५ मिनट तक डाल दें. बाद में उसे निकाल कर साफ़ पानी से धोकर सूखा लें.

तो ये थे कुछ ख़ास प्रयोग जिनका उपयोग करके आप अपने सोने की चैन और दूसरे आभूषण को फिर से पहले जैसा चमकदार बना सकते है.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.