दिवाली पर सुख समृद्धि के लिए वास्तु अनुसार इस तरह करें लक्ष्मी पूजन

Pic Credit: ekunji
97

हर कार्य को करने का एक विशेष दिन, समय, स्थान या मुहूर्त अवश्य होता है, वह हमें फलता है, ऐसा ही एक विशेष समय है दीपावली का। यदि इस दिन कुछ खास उपाय किए जांए तो उसका अच्छा परिणाम अवश्य मिलता है, जिसके चलते जीवन में खुशहाली और सुख समृद्धि आती है।

laxmi pujan, diwali, vastu se dhan prapti, deepawali ki puja kaise karen, puja vidhi, dhan prapti
Pic Credit: proptiger
  1. लक्ष्मी पूजन करते समय वास्तु के निम्नलिखित विधियों तथा उपायों का ध्यान रखने से पूजन अधिक फलदायी होता है।
  2. उत्तर दिशा धन व सम्पत्ति की दिशा होती है। इस कारण से पूजा के लिए इस दिशा का चुनाव करें तथा भगवान लक्ष्मी व गणेश की मूर्तियों को पूजा घर में उत्तर पूर्व दिशा में रखें।
  3. इस बात का भी ध्यान रखें कि भगवान की मूर्तियों का मुख दरवाजे के ठीक सामने न हो।
  4. पूजा स्थल की सफाई व स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें।
  5. पूजाघर के पूर्व या उत्तर दिशा में पानी से भरे कलश की स्थापना करना बहुत ही जरूरी माना जाता है।
  6. शुद्ध देसी घी का दीपक या फिर कपूर अथवा अगरबत्ती जलाकर पूजा का प्रारम्भ करें।
  7. पूजा के दौरान भगवान गणेश सर्वप्रथम पूजे जाने के अधिकारी होते हैं। तथा उनके बाद नवग्रह फिर मां लक्ष्मी जी का आवाहन प्रारम्भ करें।

पूजन की विधि

laxmi pujan, diwali, vastu se dhan prapti, deepawali ki puja kaise karen, puja vidhi, dhan prapti
Pic Credit: India
  1. माता लक्ष्मी की मूर्ति को दूध, दही, घी, गंगाजल तथा शहद से पंचामृत बनाकर उससे स्नान कराएं और उसके बाद उसे गंगाजल से पुनः स्नान करा कर एक साफ कपड़े से पोछ लें फिर मां की मूर्ति की स्थापना करें।
  2. मां लक्ष्मी की मूर्ति को तिलक लगाएं तथा श्रृंगार की सामग्री तथा वस्त्र चढ़ाएं।
  3. मां के समझ धूप व दीप दिखाते हुए उनकी कथा वाचें फिर भोग लगाकर दक्षिणा दें तथा उसके बाद आरती करें।
  4. अंत में पुनः मां को पुष्प अर्पण करने का विधान है तथा इसके बाद पूरी श्रद्धा से मां से प्रार्थना करें।

क्या न करें

laxmi pujan, diwali, vastu se dhan prapti, deepawali ki puja kaise karen, puja vidhi, dhan prapti
Pic Credit: gadha.org
  1. दिवाली के दिन जितना हो सके बुरे कामों से दूर रहें चाहे वो किसी का दिल दुखाना हो या किसी की निंदा चुगली करना।
  2. घर की सजावट के लिए कभी बाजार से ऐसी रंगोली न खरीदें जिस पर लक्ष्मी जी या गणेश जी की प्रतिमा बनी हो।
  3. इसी तरह इस बात का भी ध्यान रखें कि फर्श पर कभी ओम या स्वास्तिक जैसे शुभ चिन्ह न बनाएं।
  4. किसी को दिवाली उपहार देने से पहले इस बात का विशेष रूप से ध्यान रखे कि किसी को चाकू सेट, पटाखे, नकारात्मक तस्वीरें या किसी भी प्रकार का एंटीक पीस न दें।

क्या करें

  1. दक्षिण पूर्व दिशा में ताजे पानी से भरे बाउल को सौ के नोट पर रखें। इससे व्यापार में वृद्धि होती है।
  2. घर के मुख्य द्वार के पास, पूजाघर तथा अगर घर में तुलसी का पौधा है तो उसके आस-पास रंगोली अवश्य बनाएं।
  3. पश्चिम दिशा में गुल्लक रखें तथा दिवाली वाले दिन उसमें पैसे अवश्य डालें।

 

loading...

loading...