Surya Nutan: घर ले आओ यह चूल्हा महज 12 हजार में, आपको कभी भी सिलेंडर की जरूरत नहीं पड़ेगी

0 2,054
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Surya Nutan: चाहे गैस की बढ़ती कीमतें हों या रिकॉर्ड मुद्रास्फीति, खाना बनाना अब कोई तनाव नहीं है। सरकारी तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन द्वारा (तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन) सौर ऊर्जा पर (Surya Nutan) एक अद्वितीय कार्यशील चूल्हे का (चूल्हा) बनाया गया है। इसकी खास बात यह है कि चूल्हे को धूप में रखने की जरूरत नहीं है।

चूल्हे का इस्तेमाल आप किचन में या अपनी सुविधानुसार कहीं भी कर सकते हैं। इंडियन ऑयल ने इस सौर ऊर्जा से चलने वाले स्टोव का नाम सूर्य नूतन (सूर्य नूतन) रखा है।Surya Nutan) के रूप में नामित किया गया है केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) और हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने पहले इंडियन ऑयल के साथ काम किया था (इंडियन ऑयल) इस चूल्हे की जांच की।

एक सरकारी बयान में कहा गया है कि केंद्रीय मंत्री ने इंडियन ऑयल के नवाचार की सराहना की। हरदीप सिंह पुरी ने भी चूल्हे पर खाना बनाने में हाथ आजमाया।

इसके बाद हरदीप सिंह पुरी के आवास पर चूल्हे का प्रदर्शन किया गया। इस दौरान केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह, वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश, आवास एवं शहरी मामलों के राज्य मंत्री कौशल किशोर, केंद्रीय वित्त एवं वित्त मंत्री उत्तर प्रदेश एवं प्राकृतिक मामलों के मंत्री के आवास पर मौजूद हैं. गैस और आवास और शहरी मामले हरदीप पुरी, संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना, इंडियनऑयल के अध्यक्ष श्रीकांत माधव वैद्य, इंडियनऑयल के निदेशक (आरएंडडी) डॉ. एसएसवी.रामकुमार आदि उपस्थित थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) इंडियन ऑयल ने कहा था कि सूर्य नूतन को चुनौती से प्रेरित होकर विकसित किया गया था। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 सितंबर 2017 को पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अधिकारियों को संबोधित करते हुए उन्हें रसोई के लिए ऐसे समाधान विकसित करने की चुनौती दी जो उपयोग में आसान हों और पारंपरिक स्टोव की जगह ले सकें।

प्रधानमंत्री की इस बात से प्रेरित होकर सोलर कुक टॉप ‘सूर्य नूतन’ विकसित किया गया है। सूर्य नूतन सोलर कुक टॉप में कई विशेषताएं हैं। एक जगह स्थायी रूप से लगाया जा सकता है। यह एक रिचार्जेबल और इनडोर सोलर कुकिंग सिस्टम है। इसे इंडियन ऑयल के रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर, फरीदाबाद द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है। इंडियन ऑयल ने इसका पेटेंट भी करा लिया है।

इसकी एक इकाई सूरज की रोशनी के संपर्क में रहती है और चार्ज करते समय ऑनलाइन कुकिंग मोड प्रदान करती है। इसके अलावा इसे चार्ज करने के बाद भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इस प्रकार ‘सूर्य नूतन’ सौर ऊर्जा का अधिकतम उपयोग सुनिश्चित करता है। यह स्टोव हाइब्रिड मोड पर भी काम करता है। यानी सौर ऊर्जा के अलावा इस चूल्हे में बिजली के अन्य स्रोतों का इस्तेमाल किया जा सकता है। सूर्य नूतन का इन्सुलेशन डिजाइन सूर्य के प्रकाश से विकिरण और गर्मी के नुकसान को कम करता है।

नया सूर्या तीन अलग-अलग मॉडलों में उपलब्ध है। सूर्या नूतन का प्रीमियम मॉडल चार लोगों के परिवार के लिए एक पूरा भोजन (नाश्ता + दोपहर का भोजन + रात का खाना) बना सकता है।

Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.