आपके बच्चे अंगूठा चूसने की आदत से परेशान हैं तो यह करें

0 193

अंगूठा चूसना विशेष रूप से शिशुओं मैं एक बहुत ही आम बात है। छोटे बच्चे अंगूठे या अँगुलियों को मुंह मैं रखते हैं और लयबद्ध तरीके से बार बार चूसते हैं। कभी कभी बच्चे सिर्फ अंगूठा ही नहीं बल्कि त्वचा के अन्य हिस्सों (जैसे की पैर का अंगूठा) को भी चूसते हैन। यह बच्चों के लिए सुखदायक माना जाता है।

आम तौर पर बच्चे जब नवजात होते हैं तो अंगूठा चूसते हैं, फिर लगभग 3 महीने पर छोड़ देते हैन। पर जब वे 5-6  महीने में वस्तुओं को पकड़ना सीख जाते हैं तो हर चीज को मुंह मैं ले जाने की कोशिश करते हैं । यह आदत बढ़ जाती हैं जब उनके दांत आने वाले होते हैं, लेकिन यह भूख, उदासी, शर्म, थकान और नींद का भी एक लक्षण है। इस स्तर पर, न केवल यह आम है, बल्कि बच्चे के विकास मैं हानिरहित  भी है ।

अँगूठा चूसना एक सामान्य विकास की प्रक्रिया है जो धीरे-धीरे 3 साल की उम्र से गायब हो जाता है। लेकिन जब यह बड़े बच्चों में लगातार हो और  बाध्यकारी बन जाये तो यह असुरक्षा, निर्भरता का एक संकेत  है और प्ले स्कूल या डेकेयर मैं मुश्किल हो सकती है |

अँगूठा चूसने के बारे में क्या करें

  1. सब से पहले बहुत ज्यादा चिंता नहीं करें ! यह साबित हो गया है कि ज्यादातर बच्चे सुरक्षित रूप से दांत या जबड़े के संरेखण को नुकसान पहुँचाए बिना अपना अंगूठा  चूस सकते हैं, जब तक उनके स्थायी दांत न आने लगें (आमतौर पर स्थायी दांत 6 साल से पहले नहीं आते), और तब तक यह अपने बच्चे की तकनीक का निरीक्षण करें । अगर वह ज़्यादा ही चूसता है तो ४ साल की उम्र मैं उसकी आदत कम करने का प्रयास करना चाहिए ।
  2. कुछ लोगो अंगूठे पर कड़वा पदार्थ या कोई यंत्र लगा देते हैं, यह नहीं करना चाहिए । बच्चे को दण्डित करना भी सही समाधान नहीं है, क्योंकि बच्चे को पता ही नहीं होता की वो क्या कर रहा है। साथ ही, उसे रोकने के लिए दबाव डालने से यह और भी अधिक करने के लिए उसकी इच्छा तीव्र हो सकती है। यह दुख, चिंता और अधिक असुरक्षा पैदा कर सकते हैं। इसको लेकर कभी बच्चे का मजाक बनना या तंग नहीं करना चाहिए ।
  3. बच्चा जब अँगूठा चूसे  तो अन्य गतिविधियों मैं उसका ध्यान लगन चाहिए। उस समय और स्थानों की पहचान कीजिये जब बच्चे को सबसे अधिक अपने अंगूठे चूसना की संभावना है -जैसे की  टीवी देखना । ऐसे मैं उसका ध्यान कहीं और लगाएं, उदाहरण के लिए – जैसे एक रबर की गेंद को दबाना, उंगली का कोई खेल । बच्चों मैं बहुत ऊर्जा होती हैं जिसे खेल और गतिविधियों मैं खर्च करना चाहिए । उन्हें कागज पेंसिल देकर कुछ बनने के लिए प्रोत्साहित करें , या कोईं ब्लॉक का खेल खेलने को कहें ।

सबसे जरूरी बात है कि उनके अंगूठा चूसने का समय और स्थान पता लगाएं और उस समय उनका ध्यान कहीं और आकर्षित करें । आप मिलकर ऐसा समाधान निकल सकते हैं जिससे की उसकी यह आदत धीरे धीरे छूट जाएगी ।

loading...

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.