गणेश चतुर्थी पर क्यों चन्द्रमा देखना पाप माना जाता है

426

धर्म: यह भव्य त्यौहार हिन्दुओ के प्यारे हाथी के सिर के भगवान गणेश के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। भगवान गणेशा को विघ्नहर्ता कहा जाता है जो सारे दुःख दूर करके अच्छा भाग्य लाते है। महाराष्ट्र, गोवा, तमिलनाडू, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश के राज्यों में यह त्यौहार धूमधाम से मनाया जाता है। इस त्यौहार का मज़ा उठाने के लिए मुंबई शहर सबसे बढ़िया शहर है। प्रभादेवी इलाके में मौजूद सिद्धिविनायक मंदिर में खास समारोह मनाया जाता है जो भगवान् गणेश को अर्पित होता है।

और पढें

गणेशजी के 108 नाम और उनके अर्थ

श्री गणेशजी कथा

Ganesh Chaturthi par Chandra dekhna paap 3

चन्द्रमा का हँसना

इस त्यौहार के मौके पर गणेश की मूर्तियों को लोग घरों और मंदिरो में सजाकर रखते है। कलाकार महीनों से सुन्दर सुन्दर मूर्ति बनाने के काम में लग जाते है। गणेश उत्सव की पहली रात को चाँद को देखना पाप माना जाता है क्यूंकि जब भगवान गणेशा अपने वाहन यानी चूहे से गिरे थे तो चाँद भगवान गणेशा पर हंसा था।

Ganesh Chaturthi par Chandra dekhna paap 1

loading...

आखिरी दिन अनंता चतुर्दसी के दिन मूर्तियों को लोग पैदल चलकर और मस्ती में गाते और नाचते समुन्द्र की तरफ लेकर जाते है और गणेशा का विसर्जन करते है। सिर्फ मुंबई में ही हर साल करीब 1,50,000 मूर्तियाँ विसर्जित की जाती है।

फ्री 400 रुपये Paytm पाने के लिए – यहां क्लिक करें

जिओ में निकली Sale-Sale-Sale :- 
Jio 2 Smartphone  मोबाइल को 499 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे
JIO Mini SmartWatch को 199 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे
JioFi M2 को 349 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

Jio Fitness Tracker को 99 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

और ये भी पढें: 1.26 लाख महीने की सेलरी पाइए-12th,Diploma,ग्रेजुएट्स जल्दी अप्लाइ करे

अक्सर प्यार में इंसान को ये 3 चीजें जरूर मिलती है, प्यार करने वाले यह विडियो जरूर देखें

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

uflearning

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.