क्या आप जानते हैं विश्व की पाँच लंबी नदियाँ

0 737
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

नील नदी- 4160 मील (6695 किलोमीटर)

Evening,_Nile_River,_Uganda

संसार की सबसे लंबी नदी नील है जो अफ्रीका की सबसे बड़ी झील विक्टोरिया से निकलकर विस्तृत सहारा मरुस्थल के पूर्वी भाग को पार करती हुई उत्तर में भूमध्यसागर में उतर पड़ती है। नील नदी का नाम ग्रीक शब्द नीलोस से रखा गया है जिसका अर्थ घाटी है।

अमेज़न नदी- 4000मील (6437 किलोमीटर)

amazon-river

अमेज़न नदी दक्षिण अमेरिका से होकर बहने वाली एक नदी है। आयतन के हिसाब से यह विश्व की सबसे बड़ी नदी है और लंबाई के हिसाब से दूसरी। यह ब्राज़ील, पेरु, बोलविया, कोलोंबिया तथा इक्वेडोर से होकर बहती है।

यांग्त्सीक्यांग नदी 3900 मील (6275 किलोमीटर)

gorges-of-the-yangtze

यांग्त्सीक्यांग चीन की सबसे लंबी नदी है, जो सीकांग के पहाड़ी क्षेत्र से निकलकर दक्षिण पश्चिम से उत्तर पूर्व दिशा की ओर बहती हुई पूर्वी चीन सागर में गिरती है। इस नदी को यांगज़ी भी कहते हैं। यह विश्व की चौथी सबसे लंबी नदी है।

हवांगहो- 3000मील (4830 किलोमीटर)

Huang-He-River

हवांगहो या हवांगहे जिसे पीली नदी भी कहा जाता है, चीन से होकर बहने वाली एक नदी है। लंबाई के हिसाब से यह विश्व में सातवां स्थान रखती है। चीन में बहने वाली यह दूसरी सबसे लंबी नदी है। इस नदी को पीली नदी इसलिए कहा जाता है क्योंकि इसके किनारे में काफी ज़्यादा तादाद में पीले रंग का कीचड़ होता है।

ओब-इरतिश नदी – 3360 मील (5410 किलोमीटर)

Ob-Irtysh-River

ओब इरतिश नदी असल में दो अलग अलग नदियाँ है। लेकिन वैज्ञानिक इन दोनों नदियों को ओब-इरतिश ही बुलाते है। यह नदी साल में पाँच से छः महीनों तक जमी रहती है। जब यह नदी पिघलती है उस समय यहाँ सैलानी अपनी किश्ती के साथ आकर काफी लुफ्त उठाते है।

 

Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.