विश्व के 138 वें अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा के बारें में जाने

0 163

राकेश शर्मा का जन्म 13 जनवरी 1949 को हुआ था। राकेश शर्मा भारत के पहले और विश्व के 138 वें अंतरिक्ष यात्री है। 1984 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन और सोवियत संघ के इंटरकॉसमॉस कार्यक्रम के संयुक्त अंतरिक्ष अभियान के अंतर्गत राकेश शर्मा आठ दिन तक अंतरिक्ष में रहे। ये उस समय भारतीय वायुसेना के स्क्चाड्रन लीडर और विमानचालक थे।

Related Posts

2 अप्रैल 1984 को दो अन्य सोवियत अन्तरिक्षयात्रियों के साथ सोयूज़ टी-11 में राकेश शर्मा को लांच किया गया। इस उड़ान में और साल्युत 7 अंतरिक्ष केंद्र में उन्होंने उत्तरी भारत की फोटोग्राफी की और गुरुत्वाकर्षण-हीन योगाभ्यास किया।

वापिस लौटने पर भारत की प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी ने राकेश शर्मा से पूछा कि अंतरिक्ष से भारत कैसा दिखता है। राकेश शर्मा ने उत्तर दिया- ‘सारे जहाँ से अच्छा’। भारत सरकार ने उन्हें अशोक चक्र से सम्मानित किया। विंग कमाण्डर के पद पर सेवा-निवृत्त होने पर राकेश शर्मा ने हिन्दुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड में परीक्षण विमानचालक के रूप् में काम किया। नवंबर 2006 में इन्होंने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की एक समिति में भाग लिया जिसने एक नए भारतीय अंतरिक्ष उड़ान कार्यक्रम को स्वीकृति दी।

loading...

loading...