वीकेंड पर दिल्ली के इंडिया गेट ज़रूर जाएँ

0 37

घूमना किसे पसंद नहीं होता है। जब भी हमें मौका मिलता है तो हम बस कहीं न कहीं घूमने निकल जाते है। जिससे कि हमारा दिमाग फ्रेश हो जाए। आज के समय में हर व्यक्ति इतना बिजी होता है कि उसे इतना भी समय नहीं मिलता है कि वह कुछ कर पाएं। भागदौड़ भरी जिंदगी में हम इतना थक जाते है कि माइंड को फ्रेश करने के तरीके सर्च करने लगते है। वीकेंड में कहीं जाने की सोचते हैं मगर आपको समझ नहीं आता है कहां जाएं। हमारे पास इतना समय नहीं होता है कि शहर के बाहर जा नहीं सकते हैं।

अगर आप दिल्ली में ही कहीं घूमना चाहते है और आपको नहीं पता है कि कहा जाए तो हम आपको अपनी खबर में ऐसी फेमस जगहों के बारें में बता रहे है। जहां पर आपका माइंड तो फ्रेश होगा ही साथ ही आपका हर एक वक्त यादगार होगा। जानिए दिल्ली में ऐसी कौन सी जगह है। हम आपको ऐसी कई जगहों के बारे में बतायेंगे जहां पर आप घूम भी सकते हैं और मजेदार तथा चटपटे खानों का लुत्फ भी उठा सकते हैं।

इंडिया

इंडिया गेट यहां का सबसे फेमस जगह है। यहां लोग हमेशा घूमने-फिरने और खाने का मजा लेने आते हैं। इंडिया गेट पत्थर का बना एक स्मारक है, जो पहले विश्व युद्ध में शहादत देने वाले भारतीय सैनिकों की याद में बनाया गया था। यदि आप दिल्ली में घूमने निकले हैं तो निश्चित तौर पर पहली जगह इंडिया गेट ही होगे। इंडिया गेट का डिजाइन एडविन लुटियंस ने बनाया था। 42 मीटर ऊंचे इस ढांचे को बनाने में 10 साल लगे थे।

नई दिल्‍ली के मध्‍य चौराहे में 42 मीटर ऊंचा इंडिया गेट है जो मेहराबदार “आर्क-द ट्रायम्‍फ” के रूप में है। यहां उन 70,000 भारतीय सैनिकों का स्‍मारक है। जिन्‍होंने विश्‍व युद्ध-। के दौरान ब्रिटिश आर्मी के लिए अपनी जान गंवाई थी। इस स्‍मारक में अफगान युद्ध-1919 उत्‍तर-पश्चिम पाकिस्‍तान में मारे गए 13516 से अधिक ब्रिटिश और भारतीय सैनिकों के नाम भी अंकित है।

इंडिया गेट की आधारशिला 1921 में माननीय डयूक ऑफ कनॉट ने रखी थी और इसे एडविन ल्‍यूटन ने डिजाइन किया था। अन्‍य स्‍मारक अमर ज्‍योति भारत स्‍वतंत्रता के काफी बाद स्‍थापित की गई थी। मेहराब के नीचे यह अमर-ज्‍योति दिन-रात जलती रहती है, जो दिसंबर 1971 के भारत पाक युद्ध में शहीद हुए सैनिकों की याद दिलाती है। सरात में इंडिया गेट को फ्लडलाइट से जगमगाया जाता है जबकि समीपवर्ती फव्वारों को रोशनियों से जगमगाते हैं।

Sab Kuch Gyan से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे…

loading...
loading...

Leave a Reply

error: Content is protected !!