पायल और बिछिया पहनने के चमत्कारिक फायदे जो आपको 99% नहीं पता होंगे

0 924
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Toe Ring Amazing Benefits: पैरों में पहनने वाले बिछिया और पायल मात्र एक सुहाग की निशानी नही है फीमेल रिप्रोडक्टिव सिस्टम या महिलाओं के गर्भाशय आदि से भी एक संबंध है. अक्सर सुनने में आता है कि पुराने जवाने में 45-50 वर्ष उम्र की महिलाएं आसानी से मा बन जाती थी, जबकि आजकल कम उम्र की महिलाएं भी ओवेरियन एजिंग से जूझती नजर आती है.

ओवेरियन एजिंग यानी वास्तविक उम्र की तुलना में ओवेरिज या अण्डाशय का सुख जाना। उदहारण के तौर पर अगर महिला की उम्र 25 वर्ष है तो अण्डाशय की उम्र 40 या 45 के लगभग होना. इस प्रकार की समस्या अक्सर बिछिया पहनने मात्र से दूर हो जाती है.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

भारतीय महिलाओं में शादी के बाद बिछिया (Toe Ring) पहनने का रिवाज है कई लोग इसे सिर्फ शादी का प्रतीक चिन्ह और परम्परा मानते है लेकिन इसके पिछे एक वैज्ञानिक कारण है, जिसके बारे में कम ही लोगो को पता है. शास्त्रों और वैज्ञानिको दोनों ने ही माना है की दोनों पैरो में चाँदी के बिछिया (Toe Ring) और पायल पहनने से महिलाओं को आने वाला मासिक चक्र नियमित हो जाता है.

इससे महिलाओं को गर्भ धारण में आसानी होती है. चाँदी को एक बहुत अच्छा इलेक्ट्रिकल कंडक्टर माना जाता है. धरती से मिलने वाली पॉजिटिविटी को अंदर खीचकर चाँदी पूरे शरीर तक पहुचती है, जिससे महिलाएं तरो ताजा महसूस करती है।

पैरो की उंगली और टखने में एक ऐसी नस होती है जो यूट्रेस से जुड़ी होती है, ये गर्भाश्य को नियंत्रित करती है और ब्लड प्रेशर को बैलेंस कर उसे स्वस्थ रखती है.

Toe Ring

बिछिया यानी टोएरिंग (Toe Ring) और पायल दोनों ही बेहतरीन एक्यूप्रेशर का काम करता है, इनके दबाव से ब्लडप्रेशर तो नियमित और नियंत्रित हो रहता ही है साथ साथ यूट्रेस की एंडोमेट्रियल लाइनिंग भी मेंटेन रहती है. अक्सर तनाव ग्रस्त जीवन शैली के कारण महिलाओं का मासिक चक्र बिगड़ने से पीड़ित महिलाओं के लिए बिछिया (Toe Ring) और पायल पहनना लाभदायक होता है.

इनसे पड़ने वाला प्रेशर मासिक चक्र को रेगुलेट करने में सहायक होता है. पांव के उंगलियों में पहने जाने वाले बिछिया फेलिपियन ट्यूबस और ओवेरिज को भी हेल्दी रखते है, जिसके कारण महिलाओं में कंसेप्सन यानी गर्भधारण में सहायता मिलती है.

और हाँ ध्यान रहे की भूल कर भी सोने के बछिया और पायल न पहनें क्युकि सोने में माँ लक्ष्मी का वास माना गया है इसलिए कमर के निचे धारण नहीं करना चाहिए.

Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.