यह गाँव है संसार का सबसे खतरनाक जगह पर!, जिसे देखने का बाद आप हैरान हो जाओगे

407
रोचक बातें : वैसे दुनिया में लोग न जाने कहां-कहां जाकर बस जाते हैं। ऐसी-ऐसी दुरस्थ जगह जाकर बते हैं जहां सूर्य की किरण तक नहीं पंहुच पाती। दरअसल दुनिया में कई लोग ऐसे हैं जो पहाड़ या फिर ऊंची चट्टानों पर घर बनाना पसंद करते हैं, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अपनी जान को जोखिम में डालकर ऐसी जगह रहते हैं, जहां वे सुरक्षित नहीं है। ऐसी ही एक जगह स्पेन का ‘केस्टेलफोलिट डे ला रोका’ गांव है, जो बेसाल्ट के चट्टान पर बसा है, जहां हमेशा मौत का साया मंडराता रहता था।
loading...

फ्लूवीया और टोलोनेल नदी की सीमा में आने वाला यह गांव स्पेन का सबसे छोटा गांव है। चट्टान पर बसा यह गांव किसी खतरे से कम नहीं है क्योंकि यहां के कई घर चट्टान के एकदम किनारे बने हैं।

आपको बता दें कि लाखों साल पहले यहां दो ज्वालामुखी विस्फोट हुए थे। पहला विस्फोट बटेट गांव में 217,000 साल पहले और दूसरा बेगुदा में 192,000 साल पहले हुआ था।

इसके बाद धीरे-धीरे ये ज्वालामुखी जमने लगा और बेसाल्ट चट्टानों में बदल गया। चट्टानों को ठंडा होने में लंबा समय लगा, इसके बाद यहां बस्ती बसी। यहां के घरों को भी ज्वालामुखी से बनी चट्टानों से ही बनाया गया है। 13वीं शताब्दी में चट्टान के कोने पर सेंट सालवोडोर चर्च स्थापित किया गया था, जो आज भी देखा जा सकता है।

ज़मीन से 50 मीटर ऊपर और लगभग 1 किमी के क्षेत्र में बसा केटेलोनिया का केस्टेलफोलिट डे ला रोका गांव जिस चट्टान पर बसा है, वह एकदम खड़ी और छोटी है और उस पर बने घर चट्टान के किनारे बने हैं, जिन्हें देखने भर से किसी की भी सांस हलक में रूक जाए।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Comments are closed.