वैज्ञानिकों की इन रिसर्च से 50 से 100 सालों में इंसान अमर हो सकेगा

35

इंसान की अमर होने की चाहत को पूरा करने के लिए मॉडर्न साइंस नए नए अविष्कार करने की रेस में लगी हुई है जिसमें इंसान को अमर बनाया जा सके या फिर उसकी उम्र बढ़ाई जा सके तो चलिए आपको बताते हैं कुछ ऐसी तकनीकों के बारे में जो आने वाले समय में मनुष्य को अमर बना सकती हैं.

एक न एक दिन सभी को मरना है यह सच है लेकिन एक सच यह भी है कि मनुष्य कभी मरना नहीं चाहता और अधिक से अधिक दिन तक जिंदा रहना चाहता है. अगर इंसान के बस में होता तो है अमर होने के लिए जरूर कोई घुट्टी पी लेता.

रक्त का स्थान्तरण

कम उम्र वाले इंसान का खून ज्यादा उम्र के इंसान के अंदर चढ़ाकर जीवन काल बढाया जा सकता है. वैंपायर या पिशाचों के बारे में तो आपने सुना ही होगा, वह इंसानों का खून चूसते हैं जिस कारण वह इंसानों के मुकाबले अधिक समय तक जीवित रहते हैं. वैज्ञानिक कुछ इसी तरह के प्रयोग कर रहे हैं. जवानों चूहों का खून बूढ़े चूहों में चढ़ा कर उन्होंने एक रिसर्च की जिसमें यह रिजल्ट निकला की यह चुहे करीब 1 महीने ज्यादा जी रहे है. यही तकनीक इंसानों पर अपनायी जाएगी और अगर तकनीक कामयाब रही तो बूढ़े लोगों जवान लोगो का खून लेकर अपनी उम्र बढ़ा सकेंगे.

लोंगेविटी पिल्स

These researches of scientists will be immortalized in 50 to 100 years

यह गोली इंसानों के जीवन काल को बढ़ा देती है. वैज्ञानिकों का मानना है कि इस गोली के सेवन से इंसान 20 से 25 साल तक अधिक जिंदा रह सकेगा साथ ही 80 वर्ष की उम्र में इंसान 40 की तरह शक्तिशाली होगा. इंसानों की औसत आयु 78 से 82 साल की जगह 100 से 120 वर्ष हो जाएगी. वैज्ञानिकों चूहों पर इस गोली का सफलतापूर्वक परीक्षण कर चुके हैं. यह गोली 2019 के अंत तक बाजार में उपलब्ध हो जाएगी.

साईबोर्ग

These researches of scientists will be immortalized in 50 to 100 years

वैज्ञानिक ऐसी तकनीक की खोज में लगे हुए हैं जिसमे मशीन से इंसानों के अंग को बदला जा सके. अगर यह परीक्षण सफल हुआ तो आने वाले समय में इंसान को आधे मशीन और आधे मानव अंगों के साथ देखा जा सकेगा. अगर वैज्ञानिक इसी तरह इन तकनीकों को विकसित करने में लगे रहे तो आने वाले 50 से 100 सालों में इंसान अमर हो जाएगा.

शरीर के अंग का निर्माण कर

These researches of scientists will be immortalized in 50 to 100 years

वैज्ञानिकों का कहना है कि भविष्य में इंसानों के शरीर के अंग प्रयोगशाला में ही तैयार होंगे. वैज्ञानिक इस पर गहरी रिसर्च कर रहे हैं. यह रिसर्च अगर सफल हुई तो मनुष्य के अंग लैब में ही तैयार किए जा सकेंगे इसके बाद किसी को भी अंगदान करने की जरूरत नहीं पड़ेगी. अभी तक यह तकनीक पूरी तरह से विकसित नहीं हो पाई है हालांकि कुछ बॉडी पार्ट्स 3डी प्रिंटर द्वारा बनाये गये हैं.

वैज्ञानिकों का कहना है कि भविष्य में इंसान के सभी अंग 3D प्रिंटर के जरिए तैयार किए जा सकेंगे. अगर यह तकनीक कामयाब हो गई तो अंगों के कारण इंसान की मौत नहीं होगी और वह लंबे समय तक जी सकेंगे.

4 आसान से सवालों के जवाब देकर जीतें 400 रु– यहां क्लिक करें

जिओ Sale :- 
Jio 2 Smartphone  मोबाइल को 499 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे
JIO Mini SmartWatch को 199 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे
JioFi M2 को 349 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

Jio Fitness Tracker को 99 रुपये में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

Umidigi दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन 4GB रैम | 18+8 मेगापिक्सल कैमरा | 2 दिन तक चले बैटरी


सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

बॉडी बिल्डिंग करने वाले इस फेसबुक पेज पर पा सकते हैं अच्छी जानकारी पायें Body Building And Fitness India 

loading...

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.