चुनाव के बाद सट्टा बाज़ार में तय हो गया देश का अगला प्रधानमंत्री

340
देश में लोकसभा चुनाव के नतीजों को आने में अब बस कुछ ही दिन बचे हैं और गुजरात में सट्टा बाजार काफी जोर पकड़ रहा है. गुजरात में पांच शहरों में बड़े पैमाने पर सट्टा खेला जाता है. इनमें ऊंझा, महेसाणा, अहमदाबाद, राजकोट और सूरत शामिल हैं.

बता दें कि दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछली चुनाव के नतीजों को याद करते हुए कहा था कि सभी तरीके के सट्टा बाजार को धता बताते हुए चुनाव के नतीजे आए थे. जबकि बाजार में दो तीन दिन पहले से ही सट्टा लगाने का काम शुरू हो गया था.

गुजरात में सट्टा बाजारी

सट्टा बाजार में गुजरात को लेकर अलग अलग दाम चल रहे हैं. 21 सीटों के लिए 27 पैसे, 22 सीटों के लिए 60 पैसे का दाम चल रहा है तो वहीं 23 सीटों के लिए 1 पैसे का दाम चल रहा है.

इसके अलावा 24 सीटों के लिए एक रुपया 80 पैसे के सामने 2 रुपये 20 पैसे का दाम चल रहा है, और गुजरात की 26 सीटों के लिए 7 पैसे के सामने 8.50 रुपये का दाम चल रहा है.

will-rahul-gandhi-become-prime-minister-in-lok-sabha-elections (4)

प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार को लेकर बात की जाए तो सट्टा बाजार में नरेंद्र मोदी के लिए 14 पैसा चल रहा है. जबकि राहुल गांधी के प्रधानमंत्री बनने को लेकर 5 रुपये का दाम चल रहा है. सट्टा बाजार में जिस का दाम कम होता है उसके जीतने की संभावना उतनी ही ज्यादा होती है.

गुजरात में एक अंदाज के मुताबिक लोकसभा चुनाव को लेकर अब तक 200 करोड़ से भी ज्यादा सट्टा लग चुका है. हालांकि 2014 के चुनाव के सामने यह काफी कम है.

एक बुकी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि गुजरात में 2014 के लोकसभा चुनाव के वक्त 500 करोड़ रुपयों का सट्टा खेला गया था. हालांकि एक एक उम्मीदवार के भी अलग अलग दाम चलते हैं.

लोकसभा चुनाव 2019 के अंतिम चरण का मतदान हो चुका है। अब 23 मई को ईवीएम में कैद प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होगा। वहींं, सट्टा बाजार गर्म हो गया है।

एक तरफ जहां वेस्ट यूपी में गठबंधन और भाजपा प्रत्याशियों पर बड़ा दांव लग रहा है। वहीं, सट्टा बाजार में इस बार भी भाजपा की पूर्ण बहुमत सरकार पर भाव लग रहा है।

वेस्ट यूपी में गाजियाबाद, हापुड़, ग्रेटर नोएडा में सटोरिये एक्टिव है। बताया जा रहा है कि सट्टा बाजार का अनुमान मुंबई स्थित सटोरियों से जुड़ा हुआ है।

सट्टा बाजार के मुताबिक, भाजपा को 275 सीटें दे रहा है। वहीं, सहयोगी पार्टियों को 51 सीटें मिलने का अनुमान है। जबकि 2014 में भाजपा को 282 और एनडीए को 336 सीटों पर। यानि १० सीटों का नुकसान हो सकता है।

सट्टा बाजार में ये बने प्रधानमंत्री

Another big announcement of PM Modi after the budget, Rahul Gandhi's tough counterattack

सट्टा बाजार में भाजपा पर बड़ा दााव लग रहा है। सटोरिये NDA को 326 सीटें दे रहे हैं, जिसके बाद BJP को स्पष्ट बहुमत मिला रहा है। वहीं, भाजपा को 265 से 275 सीटें और सहयोगी दलों को 51 सीटों मिलने के अनुमान पर दाव लगा रहा है।

राहुल की हार-जीत पर भी लगा रहा सट्टा

गठबंधन प्रत्याशियों के अलावा कांग्रेस पार्टी पर भी सट्टा लग रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर मोटा भाव है। अमेठी लोकसभा सीट से राहुल गांधी की हार पर सट्टा लगाया जा रहा है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

loading...

Comments are closed.