जानिए !! क्यों होते हैं ATM में 16 नंबर्स, आखिर क्या छुपा होता है राज

1 889
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

एटीएम कार्ड से हम ऑनलाइन शॉपिंग या किसी चीज़ का पेमेंट करने के लिए इस्तेमाल करते है। जब से डिजिटल इंडिया का दौर शुरू हुआ है, लोग ज्यादा से ज्यादा डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने लगे है। लेकिन क्या आपने कभी कार्ड पे छपे 16 नंबर्स के बारे में सोच है ये क्यों लगे होते है और उनके मतलब क्या होते है।

पहला अंक

एटीएम कार्ड पे छपा पहला अंक ये दर्शाता है कि कार्ड को किस बैंक ने जारी किया है। इस नंबर को ‘मेजर इंडस्ट्री आइडेंटिफायर’ भी कहा जाता है। पहले अंक से कार्ड को किस बैंक ने जारी किया है ये आसानी से पता लगया जा सकता है।

बाद के 6 अंक

कार्ड पे छपे पहले नंबर को छोड़ कर बाकी के 6 नंबर ये दर्शाते हैं कि उस कार्ड को किस कंपनी ने जारी किया है। इस नंबर्स को ईशू आईडेंटिफिकेशन नंबर भी कहा जाता है।

बाद के 9 अंक

बाकी के 9 नंबर बैंक एकाउंट से लिंक होते है पर वो नंबर्स एकाउंट नंबर नही होते बस वो नंबर्स एकाउंट नंबर्स की तरह काम करते है।

आखिरी अंक

कार्ड का लास्ट नंबर से ये पता चलता है कि कार्ड वैध है या नही और इस नंबर को चेक डिजिट भी कहते है।

लेटेस्ट न्यूज़, अपडेट को पाने के लिए हमारी यह APP DOWNLOAD करने के लिए यहाँ क्लिक करें। 

Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.