हरियाणा से यमुना में पानी ना छोड़ने की वजह से दिल्ली को करना पड़ रहा जल संकट का सामना

189

नई दिल्ली , रविवार, 11 जुलाई, 2021 दिल्ली में पानी का संकट देखा जा सकता है. देश की राजधानी पहले से ही पानी की कमी से जूझ रही है. तब मिली जानकारी के मुताबिक दिल्ली में 11 जुलाई की सुबह से पानी का संकट और अधिक महसूस किया गया. इसका कारण यह है कि वजीराबाद झील का जलस्तर गिर गया है। उधर, हरियाणा की ओर से यमुना का पानी रोक दिया गया है. इन दोनों कारणों से दिल्ली में जल संकट पैदा हो सकता है।

दिल्ली में जल संकट

आम आदमी पार्टी इस संकट के लिए हरियाणा सरकार को जिम्मेदार ठहरा रही है। उनके मुताबिक, हरियाणा की खट्टर सरकार ने उतना पानी नहीं छोड़ा, जितना आम तौर पर यमुना में छोड़ा जाता है. इससे अब दिल्ली में पानी की किल्लत हो सकती है। राघव चड्ढा ने इस मुद्दे पर प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि दिल्ली की जलापूर्ति दूसरे राज्यों पर निर्भर है. दिल्ली की बढ़ती मांग को गंगा, यमुना और भूजल से पूरा किया जा रहा है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से हरियाणा से यमुना में और पानी नहीं छोड़ा जा रहा है, जिसका असर आने वाले दिनों में दिल्ली पर पड़ सकता है.

loading...

मुख्य कारण क्या है?

मिली रिपोर्ट के मुताबिक 11 जुलाई की  रात दिल्ली में पानी की समस्या हो सकती है. यह समस्या तब तक बनी रहेगी जब तक झील का जलस्तर सही नहीं हो जाता। ऐसे में दिल्ली में आने वाले दिन चुनौतीपूर्ण साबित हो सकते हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र करोल बाग, कमला नगर, शक्ति नगर, राजेंद्र नगर, पटेल नगर, संगम विहार, मूलचंद, ग्रेटर कैलाश हैं।

इस प्रकार, जैसा कि आम आदमी पार्टी का दावा है, दिल्ली की चरम मांग को भी जल बोर्ड द्वारा पूरा किया जा रहा है। दिल्ली के लोगों को अब तक 945 MGD पानी मुहैया कराया जा चुका है. लेकिन अब जब गर्मी बढ़ रही है और जलस्तर गिर रहा है तो आने वाले दिनों में चुनौती और बढ़ सकती है.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.