कान्स: लुक से ज्यादा हो रही है ऐश्वर्या के संस्कार की तारीफ, लोग बोले- आराध्या जैसी बेटी हर किसी को हो

0 15
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

कान्स: बॉलीवुड स्टार्स की तरह उनके बच्चों पर भी कैमरे की नजर हमेशा बनी रहती है। ऐश्वर्या के संस्कार की तारीफ  वे क्या करते हैं, कैसे बोलते हैं, कैसा व्यवहार करते हैं, हर छोटी चीज पर नजर रखी जाती है। एक समय था जब लोग एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय की बेटी आराध्या को हमेशा ट्रोल करते थे। लोग बच्चन परिवार की लाडली को कभी उनके हेयर स्टाइल को लेकर बुरा भला कहते हैं तो कभी उनकी मां से चिपके रहने को लेकर। कई बार ऐश्वर्या राय को भी उनकी बेटी के बारे में काफी कुछ कहा गया।

हालांकि, जो लोग ऐसा करते थे उन्हें आराध्या के कुछ वीडियो और तस्वीरें देखनी चाहिए, जिससे साफ पता चलता है कि उन्होंने कैसे संस्कार हासिल किए हैं। अपनी मां के साथ हमेशा लोगों के निशाने पर रहने वाली आराध्या को अब खूब तारीफें मिल रही हैं. क्योंकि वह अपनी मां की परेशानियों में उनका सहारा बनी हैं. वह अपनी मां को एक पल के लिए भी अकेला नहीं छोड़ता था.

दरअसल, 77 में कान्स फिल्म फेस्टिवल के लिए निकलते वक्त ऐश्वर्या राय को पता चला कि उनके हाथ में चोट लग गई है। ऐसे में आराध्या एयरपोर्ट पर अपनी मां को सपोर्ट कर रही थीं. सिर्फ एयरपोर्ट तक ही नहीं बल्कि कान्स के रेड कार्पेट पर पहुंचने तक ऐश्वर्या राय की बेटी अपनी मां का हाथ थामे नजर आईं। भले ही वह रेड कार्पेट पर अपनी मां के साथ थीं, लेकिन वह अंत तक अभिनेत्री की देखभाल करती रहीं।

रेड कार्पेट के लिए तैयार ऐश्वर्या राय को हाथ में चोट लगने के कारण भारी गाउन पहनने में दिक्कत हो रही थी।

ऐसे में आराध्या ने अपनी मां का हाथ पकड़ा और बेहद सावधानी से उन्हें कार तक ले गईं। हालांकि इस दौरान टीम के बाकी सदस्य भी मौजूद थे, लेकिन आराध्या ने अपनी मां को बिल्कुल भी परेशानी नहीं होने दी।

 

इस दौरान ऐश्वर्या की बेटी कैजुअल स्टाइलिश ब्लैक ट्रैकसूट में बिल्कुल स्टाइलिश और क्यूट लग रही थीं। मां के प्रति उनका ख्याल देखकर फैंस काफी खुश हैं. उसे यकीन ही नहीं हो रहा कि 12 साल की लड़की भी इतनी स्मार्ट हो सकती है. यूजर्स का कहना है कि ऐश्वर्या ने अपनी बेटी को बहुत अच्छे संस्कार दिए हैं जो इन तस्वीरों में नजर आ रहा है।

कुछ साल पहले ऐश्वर्या ने एक इंटरव्यू में कहा था, ‘भले ही मैं एक एक्ट्रेस हूं, लेकिन आराध्या के सामने मैं सिर्फ उसकी मां हूं, मैंने हमेशा आराध्या को एक सामान्य मां की तरह ही पालने की कोशिश की है। मैं घर पर उसके साथ बहुत सामान्य व्यवहार करता हूं। मैं उसे सामाजिक जीवन से जुड़ी बातें सिखाने के लिए कई तरह की ट्रेनिंग देता हूं।

Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.