आतंकियों की एक और कायरतापूर्ण हरकत, सीआरपीएफ कैंप पर किया हमला, मुठभेड़ जारी

276
loading...
नई सरकार के गठन के बाद से बौखलाये आतंकियों के आकाओं ने फिर से अपना सिर उठाना शुरू कर दिया है। गुरुवार को सरकार गठन के अगले ही दिन शुक्रवार की दोपहर जम्मू कश्मीर के त्राल में आतंकियों ने हमला किया। यह हमला सीआरपीएफ कैंप पर ग्रेनेड से किया गया। यह हमला सीआरपीएफ की 180 बटालियन कैंप पर किया गया। फिलहाल यहां फायरिंग चल रही है। खबर लिखे जाने तक कैंप के आसपास ही आतंकी मौजूद थे। सुरक्षा बलों की तरफ से लगातार फायरिंग की जा रही है। इस फायरिंग को आतंकियों की तरफ से भी जबाव दिया जा रहा है।

इससे पहले 14 फरवरी को आतंकियों ने किया था बड़ा हमला

इससे पहले 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने काफी बड़े हमले को अंजाम दिया था। उस वक्त भी सीआरपीएफ के जवानों को ले जा रहे वाहनों को पुलवामा में निशाना बनाया गया था जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे।

Mobile did not save the life of this young man, then martyr in the Pulwama attack

इस हमले के बाद से घाटी का जो माहौल बिगड़ा उसमें अब तक सुधार नहीं आया है। इस हमले के बाद भारत-पाकिस्तान के रिश्ते भी काफी खराब हो चुके है जिसकी वजह से गुरुवार के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को न्यौता नहीं भेजा गया था। दरअसल घाटी में सुरक्षा बलों द्वारा लगातार आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चलाया जा रहा है। सुरक्षा बलों की कार्रवाई से बौखलाये आतंकी कारयाना हरकतें कर अपनी कुंठा निकाल रहे हैं।

शुक्रवार को भी आतंकियों और सुरक्षाबलों में मुठभेड़ हुई थी

शुक्रवार को ही किश्तवाड़ में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई थी। इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया जबकि इस हमले में तो पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। शुक्रवार को मुठभेड़ से पहले सुरक्षाबलों को आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी।  इसके बाद ही ऑपरेशन शुरू किया गया।

Comments are closed.