सावधान मार्किट में बिक रहे है प्लास्टिक चावल , ऐसे करें पहचान

Advertisement

1,183

चौथी पीढ़ी जिसे 4G कहते हैं, सुनने मे बड़ा अच्छा लगता है लेकिन बढ़ती हुई तेजी से तकनीक का कहीं न कहीं गलत इस्तेमाल भी हो रहा है, चावल बड़े चाव से खाया जाता है, जिसके कारण खपत ज्यादा हो रहा है, खपत ज्यादा होगी तो डिमांड ज्यादा होगी इसीलिए अब बाजार मे प्लास्टिक के चावल बेचे जा रहे हैं। बड़े व्यापारी लोग कमाने के लिए ये काम बेखोफ कर रहे है। चाहे किसी की जान जाए चाहे किसी को बीमारी हो इनको कोई फर्क नहीं पड़ता। तो चलिये जानते है इसके बारे में।

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

अगर आप बेरोजगार हैं तो यहां पर निकली है इन पदों पर भर्तियां

दसवीं पास लोगों के लिए इस विभाग में मिल रही है बम्पर रेलवे नौकरियां

ईस्ट कोस्ट रेलवे में बम्पर भर्ती 2019 : 10वीं, 12वीं और ITI वाले आवेदन करने में देर ना करें -अभी यहाँ देखें 

loading...

how to know rice is plastic or not?

नकली चावल कैसे बनता है

खबर के मुताबिक ये काम ज़्यादातर चीन मे होता है, आइये जानते है नकली चावल कैसे बनता है, आलू के माड़ी को प्लास्टिक के साथ मिक्स किया जाता है, और उसके बाद मशीन के द्वारा चावल जैसा आकार दिया जाता है, इस तरह तैयार कर के बाजार मे उतारा जाता है।

how to know rice is plastic or not?

असली और नकली चावल की पहचान कैसे करें

आपको असली और नकली की पहचान करने के लिए आप पहले एक खाली बर्तन मे पानी भर लें उसमे चावल को डालें अगर चावल नीचे बैठ गया तो असली है, और अगर तैरने लगे तो समझ जाएँ कि उसमें मिलावट है। दूसरा चावल को घिस के भी देख सकते हैं अगर घिसने के बाद चावल के रंग मे अंतर दिखे तो समझ जाएँ नकली है, और इसके बाद चावल को जला कर भी देख सकते हैं अगर प्लास्टिक जैसा महक लगे तो समझ जाएँ चावल नकली है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.