1आलू बुखारा रोज़ खाने के फायदे, जानकर आप हैरान रह जाएंगे

237

आलु बुखार एक एैसा फल है जो दिखने में सफरचंद की तरह दिखता है स्वाद में ये खट्टा-मिठा लगता है. हमारे शरीर के लिये पोषक तत्वो की जरुरत होती है यह तत्व आलु बुखार में मिनरल, विटामिन, डायट्री फाइबर, सार्बिटॉल, आईसेटिन प्रमुख होता है. इस फल को खाने के साथ सौंदर्य बढ़ाने के लिये उपयोग में ला सकते है. आलु बुखार अगर एक व्यक्ती 100 ग्राम सेवन करता है तो उससे 45 कैलोरी मिलती है. अन्य फलो के तुलना में इस फल में कैलोरी कम होती है.

ट्यूमर जैसी घातक कैन्सर को रोकने के लिये आलु बुखार बहुत फायदेमंद है. आलु बुखार को छिलके के साथ खाना चाहीये क्योकी ट्यूमर की सेल्स को बढने से ये रोकता है. साथ ही महिलाओ की समस्या जैसे रजोनिवृत्ति में महिलाएं आलुबुखार खाये ओ ओस्टियोपोरेसिस जैसी समस्या से बच्च सकती है.

loading...

प्रेग्नन्सी महिलाएं आलु बुखार खाये आलु बुखार में विटामिन और मिनरल्स का खजाना है. इसे खाने से मा और शिशु दोनो का विकास होता है गर्भावस्था में महिलाओ को अक्सर कब्ज की समस्या होती है इससे लढणे के लिये आलु बुखार का सेवन सेहत और इन्फेक्शन से लढणे में साह्यता करता है.

सरदर्द से परेशान व्यक्ती आलु बुखार के 7-8 नग आदे लीटर पानी में रात भर भिगोकर रखे सुबह वह आलु बुखार को मिक्सर में बारीक करके उसकी पेस्ट बनाकर छान ले उस में मिश्री मिलाकर पिणे से सिरदर्द, पित्त, उलटिया आदि समस्या शांत होती है.

आलु बुखार आंखो की सेहत के लिये बहुत फायदेमंद है इस फल में विटामिन सी, इ, मात्रा है ये दोनो पोषक तत्व है आंखो के रोशनी के समस्या से राहत दिलाते है. मोतियाबिंद जैसी समस्या के कारण आंखो की नजर कमजोर होती है इससे निपटने के लिये आलु बुखार साह्यता कर सकता है. या इस के सेवन से मदत मिल सकती है. इसलिये आलुबुखार के सेवन से दिये हुये शारीरिक रोगो में मदत के साथ अन्य रोगो पर भी साह्यता मिल सकती है.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.