भारत के शहर से भी ज्यादा अमीर है भारत का यह गाँव जानकर हैरान हो जहोगे

3,023

गांव का जिक्र करते ही धूल भरे रास्ते, बैल या घोड़ा गाड़ी, कच्चे-पक्के मकान और दूर तक नजर आते खेतों की तस्वीर ही दिमाग में आती है, लेकिन कोई शहर ऐसा भी हो जहां कच्चे की जगह पक्के और साफ सुथरे रास्ते, उन पर दौड़ती मर्सिडीज या बीएमडब्लू जैसी महंगी गाड़ियां और गांव के चौक-चौराहों पर मैक्डॉनल्ड जैसे रेस्टॉरेंट भी नजर आएं तो क्या कहेंगे।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

You will be surprised to know that this village of India is richer than the city of India.

loading...

जी हां, गुजरात के आणंद जिले का धर्मज गांव ऐसा ही है, जहां यह संपन्नता आपको तमाम जगह बिखरी नजर आएगी। गांव के लोग शहरी और ग्रामीण दोनों परिवेश की जिंदगी जीते हैं। इस गांव की ख़ास बात यह है कि इसे एनआरआई का गांव भी कहा जाता है. क्योंकि यहां के लगभग हर घर का व्यक्ति विदेश में है. इस गांव के लोग बताते हैं कि गांव के हजारों लोग आपको कनाडा, अमेरिका, ब्रिटेन जैसे शहर  में आसानी से मिल जाएंगे।

हर साल मनाया जाता है धर्मज डे

गांव वाले हर साल 12 जनवरी को धर्मज डे सेलिब्रेट करते हैं ।

जिसमें शामिल होने के लिए दुनिया के कोने-कोने में बसे गांव के एनआरआई पूरे परिवार के साथ यहां आते हैं।You will be surprised to know that this village of India is richer than the city of India.

वो महीनों तक यहां रहते हैं और मौज-मस्ती करते हैं, अपने बच्चों को गांव की संस्कृति से रूबरू कराते हैं।

फिलहाल गांव में उसी धर्मज डे को लेकर तैयारियां चल रही हैं।

यही नहीं, आयुर्वेदिक अस्पताल, सुपर स्पेशलिटी हॉस्प्टिल, रेजिडेंशल स्कूल आदि भी आपको इस गांव में मिल जाएंगे.

साथ ही स्विमिंग पूल वाले आलीशान घर भी आपको यहां नजर आएंगे।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.