यह सिक्का याद है आप को भारत के बड़े-बुजुर्गों की यादों में आज भी बसते हैं बरसों पुराने ये 8 सिक्के जिनको सब भूल गए हैं

470

 बरसों पुराने ये 8 सिक्के1835 में बने इन वन क्वार्टर अन्ना के सिक्कों के बारे में जो कि आपको कर सकते हैं मालामाल तो इस तरह के वन क्वार्टर अन्ना के सिक्के आपके पास जरूर होंगे लेकिन क्या आप सबको इस तरह के सिक्कों की कीमत पता है आप यह जो सिक्के देख रहे हैं यह वन क्वार्टर आना इंडिया के सिक्के हैं।यह सिक्का जारी हुआ था क्वीन विक्टोरिया के समय में लेकिन इनमें से कुछ सिक्के 1835 में नहीं बने थे

You remember this coin, you still live in the memories of the elders of India, these 8 coins which have been forgotten for many years.

यह सिक्का हमारे देश के 3 वार्डों में बनाया गया था इन सिक्को का पहचान करना करना थोड़ा मुश्किल है।

loading...

You remember this coin, you still live in the memories of the elders of India, these 8 coins which have been forgotten for many years.

इस सिक्के की पहचान है ईस्ट इंडिया की कंपनी के दोनों तरफ से के बने दो चिन्ह और इसी के ऊपर एक छोटा सा बना हुआ शेर और नीचे ईस्ट इंडिया का लिखा हुआ सन 1835 लिखा हुआ है और पीछे की साइड वन क्वार्टर अन्ना लिखा हुआ है।इन सिक्कों में चारों तरफ पतियों की एक कीमत बनी हुई है इस सिक्के का वजन होता है 6 से 7 ग्राम है यह सिक्के कॉपर और तांबे से बनाए गए हैं।

You remember this coin, you still live in the memories of the elders of India, these 8 coins which have been forgotten for many years.

यह ठीक इन सिक्कों की पहचान आप चलिए इन सिक्कों की कीमत के बारे में बात कर लेते हैं इन सिक्कों की कीमत बाहरी कंट्री में 6 से ₹7000 है और अपनी इंडिया में इन सिक्कों की कीमत 200 से ₹300 हैं।क्योंकि इन सिक्कों में 16 धातुओं से मिलकर बनाए गए थे और इन सिक्कों की चमक लंबे समय तक बनाए रखना ही इनकी असली पहचान है जो कि बिल्कुल काले नहीं पड़त

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.