महिला टी-20 विश्वकप: हरमनप्रीत कौर को मैन ऑफ द मैच – न्यूजीलैंड को 34 रनों से हराकर जीत से किया आगाज

0 41

वेस्टइंडीज में आज से महिला टी-20 विश्वकप की शुरुआत हो गई. जिसके पहले मैच में इंडियन टीम ने न्यूजीलैंड को 34 रनों से हराकर इस टूर्नामेंट का जीत से आगाज किया. इस जीत के बाद भारतीय महिला टीम ने 2 अंक हासिल कर लिए हैं.

आज का पूरा स्कोरकार्ड

महिला भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की. उन्होंने निर्धारित 20 ओवर में 194/5 रन बनाए. इस भारतीय पारी में कप्तान हरमनप्रीत ने 103 रन बनाए. जबकि जेमिमा ने 59 रन बनाए. अब भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को जीतने के लिए 195 रनों का विशाल लक्ष्य दिया था.

Women's T20 World Cup

195 रनों के जवाब में कीवी टीम ने तूफानी शुरुआत की. लेकिन वो जीत हासिल नहीं कर सकीं. उनकी ओर से सूजी बेट्स ने 67 रन बनाए. जबकि विकेटकीपर केटी मार्टिन ने 39 रनों का योगदान दिया. लेकिन फिर भी वो लक्ष्य से 34 रन पीछे रह गई. भारत की ओर से हेमलता और पूनम ने 3-3 विकेट लिए. जबकि राधा यादव ने 2 विकेट और ए रेड्डी ने 1 विकेट लिया. इस तरह भारत ने अपना पहला टी-20 मुकाबला 34 रन से जीता.

इस मैच में तूफानी (103 रन) शतकीय पारी के लिए कप्तान हरमनप्रीत कौर को मैन ऑफ द मैच चुना गया. यह अवार्ड मिलने के बाद आइए जानते हैं कि उन्होंने इंटरव्यू में ऐसा कहकर जीता सभी लोगों का दिल. जानकर होगा गर्व.

हरमनप्रीत ने इंटरव्यू में कहा कि मैं बहुत खुश हूँ. लेकिन यह तो बस शुरुआत है. अभी हमें बहुत आगे जाना है. बहत सारे क्षेत्रों में सुधार की जरूरत है. हमने एक टीम के रूप में काफी सुधार किया है. जिस पर हमें गर्व है. हरमनप्रीत ने बताया कि मुझे पता था कि यदि मैं पिच पर टिक जाऊं. तो मैं अपने शॉट्स खेल सकती हूँ. जो कि मैंने किया.

Women's T20 World Cup

हरमनप्रीत ने आगे बताया कि आज जेमिमा ने अच्छा खेल दिखाया. जब आप शॉट्स खेलते हो तो किसी को दूसरे छोर पर स्ट्राइक रोटेट करने की जरूरत थी. जो कि जेमिमा ने बखूबी किया. इसलिए उसे इसका श्रेय जाता है. उसने आज एक बेहद समझदार पारी खेली. हमें अपने गेंदबाजी विभाग में और भी सुधार की जरुरत है. खासतौर पर पहले 6 ओवर में गेंदबाजी में अधिक सुधार की जरूरत है.

हरमनप्रीत ने बताया कि पिछले रात मुझे हल्का बुखार था. लेकिन आज टीम को जिताना अच्छा रहा. जीत और हार खेल का एक हिस्सा है. लेकिन जब से रमेश पॉवर हमारे कोच बनकर आए. तो टीम में सबका विचार बदल गया. ओ एक अच्छी बात है. उनके टीम में आने से हम काफी खुश हैं. मिथाली हमारी टीम की सबसे अनुभवी प्लेयर हैं. उनका बाद में बल्लेबाजी करना अधिक फायदेमंद है नाकि पहले 6 ओवर में. उनका टीम में होना हम सभी के लिए काफी अच्छा है. क्योंकि उनका अनुभव काफी अच्छा है. हमारे पास कई ऐसे युवा प्लेयर्स हैं. जो इंटरनेशनल मैच खेलने के लिए काफी उत्सुक हैं.

चाणक्य निति द्वारा चाणक्य ने बताई है चरित्रहीन औरत की यह पहचान

loading...

loading...