गुर्दे की पथरी में कौन सा आहार नहीं लेना चाहिए

0 84

मूत्रपथ में पथरी होने से आहार में बदलाव करना बहुत जरूरी है। जो कि पथरी तथा गुर्दे और शरीर में उसके द्वारा की गई हानि पर निर्भर करता है। उस पथरी में, जो कि जटिल नहीं बनी है।, उसके रचना के अनुसार ही खाने की चीजों से परहेज होना चाहिए।

ऑक्जेलेट या ऑक्जेलिक एसिड वाली पथरी

अगर ऑक्जेलेट या ऑक्जेलिक एसिड वाली पथरी है तो रोगी को टमाटर, अदरक इमली, मूली, प्याज, भिंडी, सलाद, गेहूं, कोलोकेसिया, जिमीकंद, आलू के छिलके आदि का परहेज रखना चाहिए।

यूरिक एसिड वाली पथरी

यदि आपको यूरिक एसिड वाली पथरी होती है तो रोगी को चाय, कॉफी, दालें, कलेजी, मीट, गुर्दे, काजू, मूंगफली आदि नहीं खानी चाहिए और अगर मिश्रित पथरी है तो ऊपर बताए गए दोनों प्रकार के खाद्य पदाथों का परहेज रखना होगा। लेकिन हर हालत में रोगी को खूब पानी चाहिए। जब तक कि पेशाब करने में मुश्किल न आये। पीप बहने, संकमण अथवा रूकावट (Obstruction) हो तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

ें

loading...
loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.