स्तनपान के दौरान होने वाली कौन कौन सी सेक्स परेशानियाँ होती है

170

जो स्त्रियां स्तनपान कराती हैं, वे प्रसव के पश्चात् अपना सेक्स जीवन अपेक्षाकृत शीघ्र प्रांरभ कर सकती हैं। प्रसव के पश्चात् प्राइवेट पार्ट में रूखापन रहता है, जिस कारण यौन क्रिया के दौरान तकलीफ होती है, परन्तु स्तनपान कराने वाली स्त्रियों में यह तकलीफ नहीं होती है। सामान्यतः ऐसी अवस्था में क्रीम व जैली आदि का प्रयोग भी किया जा सकता है।

गर्भ ठहरने का डर

Advertisement

Pic Credit : HealthyWomen

यह भी माना जाता है कि जो स्त्रियां स्तनपान कराती हैं, उन्हें गर्भ नही ठहरता है। यह सच है कि स्तनपान कराने वाली स्त्रियों में ओव्यूलेशन व मासिक देर से होता है। यद्यपि स्तनपान कराने वाली स्त्रियों के गर्भवती होने की संभावना कम होती है, तो भी इसे परिवार नियोजन का कारण मानकर निश्चित नहीं हो जाना चाहिये। स्तनपान के दौरान आप अपनी डाॅक्टर की सलाह से परिवार नियोजन की दवा आदि ले सकती हैं।

अतः स्तनापन आपके व आपके बच्चे दोनों के लिये लाभदायक है। आपके बच्चे के लिये यह सर्वाधिक पोषक व एण्टीबाडीज युक्त होता है, जिससे आपके बच्चे को जल्दी इन्फेक्शन नहीं होता है।
स्तनपान कराने वाली स्त्रियों में स्तन कैंसर व ओवरी के कैंसर की संभावना कम होती है। प्रसव के बाद स्तनपान आपकी कैलोरीज को बर्न करने व आपके वजन को कम करने में भी सहायक होती है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Advertisement

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.