मीठा और स्वादिष्ट आम तो आप ने बहुत खाए होंगे पर लंगड़ा आम क्या है सच जानकर चोंक जाएंगे

1,674

गर्मियों का मौसम आते ही बाजार में आम की शुरूआत हो जाती है। आम एक ऐसा फल है जो की काफी मीठा और स्वादिष्ट होता है। जिसे हर आयु के लोग बहुत पसंद करते है। आम खाने में स्वादिष्ट तो होता ही है लेकिन इसके साथ यह सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

loading...

दसवीं पास वालों के लिए CISF कांस्टेबल और ट्रेडमैन में आई बम्पर भर्ती – देखें पूरी जानकारी

एमपी नेशनल हेल्थ मिशन ने दी टेक्निकल -पैरामेडिकल पर बम्पर भर्ती – आवेदन करें

मेट्रो में विभिन्न विभिन्न पदों पर नौकरी करने का सुनहरा अवसर –  सैलरी Rs.41800- 132300 (Per Month)

आम में प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन सी, फाइबर यह सभी पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते है। जो हमारे शरीर को कई बीमारियों से बचाते है। आम के सेवन से पाचन क्रिया और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। लेकिन दोस्तों 90 प्रतिशत लोग यह नहीं जानते की आम को लंगड़ा क्यो कहा जाता है.

आपको बता दें कि हमारे देश में लगभग 1500 किस्म के आमों का उत्पादन किया जाता है। इनमें से सबसे ज्यादा खाया जाने वाला आमों में हापुस, दशहरी, लंगड़ा तोतापरी, सफेदा, नीलम और लंगड़ा ऐसे कई तरह के आम हमारे देश में मौजूद है। हर आम के नाम के पीछे उसके स्वाद और उसके आकार की कहानी होती है।इनमें से एक लंगड़ा आम बाकी आमो की तरह पीले रंग का नहीं होता है बल्कि इसका रंग हरा होता है। यह आम बाकी आमो से कई ज्यादा मीठा और रसदार होता है.

इस आम की प्रजाति उत्तर प्रेदश के वाराणसी शहर में ज्यादा पाई जाती है। लंगड़ा आम की प्रजाति 250 से 300 साल पुरानी है। इस आम की कहानी वाराणसी शहर से जुड़ी हुई है जो की इस प्रकार है। जब एक व्यक्ति ने आम खाकर उसका बीज अपने घर के आंगन में लगा दिया

और जब उस पेड़ पर फल आने लगे तो काफी लोगो ने इस आम को खा के देखा और सब लोगो को यह आम बहुत पसंद आया। जिसके बाद लंगड़ा आम काफी लोक प्रिय हो गया.

जिस व्यक्ति ने इस आम का पेड़ अपने घर के आंगन में लगाया था वह व्यक्ति लंगड़ा था और कई लोग उसे यही नाम कहकर बुलाते थे। जिसके बाद धीरे-धीरे उस व्यक्ति के नाम पर ही इस आम का नाम रख दिया गया.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.