एलर्जी, खांसी और जुकाम में बहुत लाभदायक है काली मिर्च का सेवन, ऐसे करें इस्तेमाल

452

काली मिर्च न केवल हमारे भोजन का स्वाद बढ़ाती है बल्कि कई बीमारियों के इलाज में भी उपयोगी है। जैसे सबसे अहम बीमारी खांसी और जुकाम। काली मिर्च का सेवन मौसम की बदलती परिस्थितियों जैसे खांसी, जुकाम, एलर्जी के कारण होने वाली बीमारियों से भी छुटकारा दिलाता है, सर्दियों के मौसम में काली मिर्च का सेवन न केवल आपको स्वस्थ रखता है बल्कि आपको खांसी और जुकाम से भी बचाता है। आइए जानते हैं कि काली मिर्च हमारी बीमारियों से कैसे छुटकारा दिलाती है।

सर्दी और जुकाम में लाभ के लिए एक कप गर्म दूध में आधा चम्मच मिर्च पाउडर

एक चम्मच चीनी मिलाएं। काली मिर्च काली मिर्च में मौजूद है

इसमें एक अवसाद रोधी गुण है, जो लोगों के तनाव और अवसाद को दूर करने में मदद करता है।

बिस्तर पर जाने से पहले 3-4 काली मिर्च चबाने और फिर हल्का दूध पीने से जुकाम से राहत मिलती है।

छह ग्राम काली मिर्च को पीसकर 30 ग्राम गाय या चीनी और दही के साथ मिलाकर पांच दिनों तक दिन में दो बार सेवन करें, इससे शर्करा खराब होती है।

खांसी और जुकाम In the morning, empty stomachs are consumed with warm water, they are consumed with black pepper, these 3 medicinal benefits

loading...

काली मिर्च में कैल्शियम, आयरन, फॉस्फोरस, कैरोटीन, थाइम जैसे पोषक तत्व होते हैं।

अगर आप इसे खाली पेट खाते हैं तो आपको कई फायदे होंगे।

आपकी कई समस्याएं 7 दिनों के भीतर दूर हो जाएंगी।

पेट में गैस या एसिडिटी होने पर नींबू के रस में एक चुटकी काला नमक और एक चुटकी काली मिर्च मिलाएं, दर्द कुछ ही देर में हल्का हो जाएगा।

खांसी और जुकाम के लिए असरकारक नुस्खा

काली मिर्च और बथुए के पानी में उबालकर पीने से खांसी दूर होती है

मन भी हल्का होता है। इसके अलावा, काली मिर्च को शहद के साथ पीसकर खाने से खांसी

जुकाम से राहत मिलती है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.