मौसमी बीमारियों से बचने के लिए करें इन चीजों का सेवन

355
loading...

मौसम के बदलने के साथ कई प्रकार की बीमारियां भी फैलना शुरू हो जाती हैं। अक्सर गर्मी और बारिश के मौसम में ज्यादा बीमारियां फैलती हैं जिसमें मलेरिया का प्रकोप ज्यादा देखा गया हैं। इसके अलावा भी मौसम के बदलने के साथ सर्दी-जुकाम, खांसी, बुखार, वायरल बुखार, फूड पॉइजनिंग आदि हो सकते हैं। इसलिए आज हम आपको बता रहें इन मौसमी बीमारियों से बचने के लिए कुछ आसान घरेलू टिप्स जिन्हें अपना कर आप हमेशा स्वस्थ रह सकते हैं, तो आइए जानते हैं।

  1. गर्मी और बारिश के मौसम में अक्सर लोग मलेरिया बुखार से पीड़ित हो जाते हैं। गर्मी और बारिश के मौसम में मलेरिया फैलाने वाले मच्छर हर घर में मिल जाते हैं। इसलिए मलेरिया से बचने के लिए रात को सोते समय अपने पूरे शरीर पर एलोवेरा जेल या ताजा एलोवेरा का रस लगाएं। इससे रातभर मच्छर नहीं काटेंगे और त्वचा भी कोमल बनेगी।

  2. मौसमी बीमारियों से बचने के लिए हमेशा गिलोय का जूस पिएं। गिलोय में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं। गिलोय रक्त की अशुद्धियों को दूर करता हैं और प्लेटलेट्स की संख्या को तेजी से बढ़ाता हैं। इससे बुखार शीघ्र ही उतर जाता हैं।

  3. गर्मी के मौसम में अधिक मात्रा में पपीता, खरबूजा, ककड़ी, खीरा, तरबूज आदि फलों का सेवन जरूर करना चाहिए। इससे शरीर में पानी की कमी नहीं होगी और शरीर दिनभर हाइड्रेट रहेगा।

  4. अगर वायरल बुखार हो जाएं तो मौसमी का जूस पीना चाहिए। मौसमी के जूस में भरपूर मात्रा में विटामिन सी होता हैं जो बुखार के असर को कम करता हैं साथ ही शरीर में विटामिन सी की कमी को दूर करता हैं।

  5. बदलते मौमस के कारण अगर सर्दी-जुकाम और खांसी हो जाए तो शहद, तुलसी, अदरक, नींबू, गुड़, कालीमिर्च आदि चीजों मिलाकर काढ़ा बनाकर पीना चाहिए। इससे सर्दी-जुकाम और खांसी शीघ्र ही दूर होंगे।

अगर आप किसी बीमारी का इलाज जानना चाहते हैं या आपका कोई सुझाव हैं तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.