जो लोग भारत विरोधी काम करते हैं उन्हें अब उन्हीं की भाषा में जवाब दिया जाएगा- गृहमंत्री अमित शाह

388

हाल ही में जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन को 6 महीने बढ़ाये जाने को लेकर संसद में प्रस्ताव पारित हो गया है। इस दौरान सोमवार को राज्यसभा में जम्मू कश्मीर आरक्षण विधेयक भी पेश किया गया। इस विधेयक के पारित होते ही अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ ही नियंत्रण रेखा में मौजूद लोगों को भी आरक्षण का लाभ मिलने लगेगा।

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि जो लोग भारत विरोधी काम करते हैं उन्हें अब उन्हीं की भाषा में जवाब दिया जाएगा। सोमवार को गृहमंत्री अमित शाह अलगाववादी नेताओं पर भी भड़क उठे और उन्होंने बड़ा बयान दिया।

loading...

जानिए क्या बोले अमित शाह

Those who work anti-India will now be given answers in their language - Home Minister Amit Shahअपनी बात रखते हुए अमित शाह ने कहा कि वह भारत के पहले प्रधानमंत्री की प्रतिष्ठा को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते हैं लेकिन आजादी के बाद जो गलतियां की गईं उन्हें अनदेखा नहीं किया जा सकता है।

भाषण के दौरान अमित शाह अलगाववादी नेताओं पर भी भड़क उठे और उन्होंने कहा कि, “अलगाववादी नेता घाटी के स्कूलों को बंद करके अपने बच्चों को विदेशों में पढ़ाते हैं।” साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अलगाववादी नेताओं को कश्मीरी युवकों को पत्थरबाजी के लिए उकसाने का कोई पछतावा नहीं है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.