विडियो: ग्राहकों से फर्राटेदार संस्कृत में ही बात करता है यह टैक्सी ड्राइवर- इस अनोखे अंदाज़ ने से मिली पहचान

0 1,017
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

संस्कृत सबसे प्राचीनतम भाषाओं में से एक है। संस्कृत बोलने और पढ़ने में एक अलग ही मजा आता है। लेकिन प्रोफेशनल करियर में बेहतर करने के लिए लोग संस्कृत, हिंदी और क्षेत्रीय भाषाओं को नजरअंदाज कर रहे हैं और अंग्रेजी को ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं। लेकिन बेंगलुरु में मल्लपम नामक एक टैक्सी ड्राइवर है जो अपने ग्राहकों से संस्कृत में ही बात करता है इसलिए यह टैक्सी ड्राइवर कुछ दिनों में ही काफी लोकप्रिय हो गया है।

AIIMS भोपाल में निकली नॉन फैकेल्टी ग्रुप A के लिए भर्तियाँ – अभी देखें 

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

दिल्ली पुलिस नौकरियां 2019: 649 हेड कांस्टेबल पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

ईस्ट कोस्ट रेलवे में बम्पर भर्ती 2019 : 10वीं, 12वीं और ITI वाले आवेदन करने में देर ना करें -अभी यहाँ देखें 

दरअसल, हाल के दिनों में इंटरनेट पर एक वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें एक टैक्सी ड्राइवर फर्राटेदार संस्कृत भाषा में अपने पीछे बैठे एक ग्राहक से बात कर रहा है। पीछे बैठा ग्राहक भी उसे देख थोड़ा बहुत संस्कृत बोलने की कोशिश कर रहा है लेकिन वह ड्राइवर की तरह फर्राटेदार संस्कृत नहीं बोल पा रहा है।

इस वीडियो को अभी तक लाखों लोग देख चुके हैं। एक तरह से कहा जाए तो यह वीडियो सोशल मीडिया पर सनसनी मचा दी है और अब लोग टैक्सी ड्राइवर से सीख लेने की बात कह रहे हैं।

आपको बता दें जब टैक्सी ड्राइवर को पूछा गया वह कहां से संस्कृत सीखी है तो उसने बताया 10 साल पहले एक शिविर लगा था जिसमें संस्कृत की पढ़ाई होती थी उसने वहीं से संस्कृत भाषा को सीखा। आपको बता दें दक्षिण भारत में लोग अपनी मातृभाषा को छोड़कर किसी अन्य भाषा में बात करना पसंद नहीं करते फिर भी पिछले 10 साल से उसने संस्कृत को खुद से जोड़े रखा और आज संस्कृत ने उसे इंटरनेट पर एक अनोखी पहचान दिला दी है।

वीडियो में देखिए किस तरह संस्कृत बोल रहा है यह टैक्सी ड्राइवर-

Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.