आपकी आंखों की रोशनी को अच्छे से बढ़ाता है ये फल

646

आजकल के खराब खानपान की वजह से शरीर को आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं। इससे हमारे शरीर के अंगों की कार्यक्षमता कमजोर होने लगती है। पर्याप्त पोषण के नहीं मिलने से हमारी आंखें भी कमजोर होती हैं। और कम उम्र में ही चश्मा लग जाता है। इसके अलावा आजकल लोग दिनभर मोबाइल चलाते हैं। जो आंखों के लिए बहुत ही हानिकारक होता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने केलिए यहाँ क्लिक करें 

loading...

आज हम आपको एक ऐसे फल के बारे में बताएंगे जो आंखों की रोशनी तेज करने में सहायक होता है।
आज हम जिस फल के बारे में बात कर रहे हैं वह खट्टा मीठा फल आलूबुखारा है। जो सेहत के लिए बहुत लाभदायक होता है। आलूबुखारा में बॉडी के लिए जरूरी सभी पोषक तत्व और मिनरल्स भरपूर मात्रा में होते हैं। इसके अलावा आलूबुखारा में विटामिंस, मिनरल्स और अन्य कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं।

आलूबुखारा खूबसूरती निखारने के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। आलूबुखारा के सेवन से शरीर की ताकत बढ़ती है। और शरीर की कई बीमारियां खत्म हो जाती है।

This fruit enhances the eyesight mus read in hindi

विटामिन डी, पोटेशियम, फॉस्फोरस और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। और कैलोरी कम मात्रा में पाई जाती है। इसलिए यह वजन घटाने में भी उपयोगी है। इस फल को खाने से शरीर को भरपूर पोषक तत्व मिलते हैं। शरीर का वजन नियंत्रित रहता है। और कब्ज की समस्या दूर होती है। आलूबुखारा खाने से पेट हमेशा साथ रहता है।

This fruit enhances the eyesight mus read in hindi

आलूबुखारा में पाए जाने वाले विटामिन ए और विटामिन सी पोषक तत्व आंखों और त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। यह फल नियमित रूप से आंखों की रोशनी बढ़ जाएगी। और आपकी आंखों का चश्मा भी उतर सकता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.