ये महिला जो थी पुलवामा हमले में शामिल, अब हो गयी है गिरफ्तार , पढ़ें पूरी खबर

415

चूंकि NIA की जांच राज्य में पुलवामा हमले के साथ आगे बढ़ रही है, कई खुलासे सामने आ रहे हैं। चौंकाने वाला हमला जैश-ए-मोहम्मद, पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन द्वारा एक सुनियोजित साजिश है, जो हमले से दो साल पहले बुनी गई थी। इसके लिए आतंकवादियों को अभ्यास के लिए अफगानिस्तान भेजा गया। तालिबान आतंकवादी शिविर में विस्फोट अभ्यास किया गया था।

The only woman who was involved in Pulwama attack was arrested, पुलवामा

loading...

एनआईए की जांच अब इस मामले में शामिल एकमात्र महिला आतंकवादी के रूप में सामने आई है। यह पता चला है कि जांच के कारण हिरासत में ली गई अकेली महिला इंशा जान इस हमले के मास्टरमाइंड की करीबी थी। उसने हर संभव प्रयास के साथ अपने साथी आतंकवादियों की मदद की थी। एनआईए द्वारा दायर आरोप पत्र में दावा किया गया है कि 23 वर्षीय इंशा जान मुख्य साजिशकर्ता मोहम्मद उमर फारूक का साथी थी , जिसने सुरक्षा बलों द्वारा मार्च में कश्मीर में मारे गए पाकिस्तानी बम बनाए थे।

वह फोन और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के माध्यम से उसके संपर्क में थी। एनआईए के मुताबिक, इंशा जान के पिता तारिक पीर भी फारूक और उनके रिश्ते के बारे में जानते थे। तारिक पीर ने पुलवामा और आस-पास के इलाकों में कई तरह की गतिविधियों में उमर फारूक और उसके दो अन्य सहयोगियों की मदद की थी। इसके साथ ही अब पूरे मामले की जांच की जा रही है। उसी दिन इस बारे में कई खुलासे किए जा रहे हैं। अब देखते हैं कि कार्यवाही में क्या होता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.