दोषी बेटे की माँ ने निर्भया की माँ से मांगी माफ़ी कहा-मेरे बेटे को माफ़ कर दो

6,383

निर्भया केस आखिर ये इतने लम्बे समय के बाद में फैसला आया है और पटियाला हाउस कोर्ट ने आखिरकार फाइनल कर ही दिया है कि 22 जनवरी को निर्भया केस के सभी दोषियों को सजा दे दी जाये और ये फैसला अब एकदम फाइनल है जिस पर देश भर में एक पोजेटिव माहौल बना है और लोग खुश भी है कि आखिरकार निर्भया को इन्साफ मिला है

SBI बैंक में निकली 10th-12th के लिए क्लर्क भर्ती- लास्ट डेट : 26 जनवरी 2020

दिल्ली पुलिस नौकरियां 2019: 649 हेड कांस्टेबल पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

AIIMS भोपाल में निकली नॉन फैकेल्टी ग्रुप A के लिए भर्तियाँ – अभी देखें 

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

The mother of the guilty son apologized to Nirbhaya's mother and said - forgive my son

loading...

देश में हर कोई चाह रहा था कि इन लोगो को सजा मिल जाए लेकिन कोर्ट रूम में एक औरत ऐसी भी थी जो ये कह रही थी कि इन्हें सजा न दी जाए. दरअसल इस पर जब कोर्ट में केस चल रहा था तब वहां पर इस केस से जुड़े कई लोग मौजूद थे जिनमे से एक थी दोषी मुकेश की माँ

The mother of the guilty son apologized to Nirbhaya's mother and said - forgive my son

जब निर्भया की माँ ने मांग की कि इन सभी दोषियों को अब फंदे की ही सजा दी जानी चाहिए तभी वहाँ पर दोषी मुकेश की माँ बीच में पड़ गयी और कहने लगी कि मैं भी आखिर एक माँ हूँ, मेरी भावनाओं का भी ख्याल रखा जाना चाहिए.

The mother of the guilty son apologized to Nirbhaya's mother and said - forgive my son

जज साहब आप दया करिए, मेरे लाल का क्या होगा? ये सब कहते हुए वो निर्भया की माँ से भी उलझ पड़ी क्योंकि उन्हें सजा दिलवाने का काम कही न कही निर्भया की माँ ही कर रही है

The mother of the guilty son apologized to Nirbhaya's mother and said - forgive my son

ऐसे में जज साहब को बीच में पड़कर के इन दोनों को शांत करना पडा और कोर्ट में क़ानून के मुताबिक़ सारी की सारी प्रोसिडिंग चली जिसके बाद में मुकेश समेत बाकी सभी आरोपियों के लिए लटकाने की तारीख मुकर्रर कर दी गयी है और अब इसे रोक पाना लगभग लगभग तो असंभव ही है क्योंकि ये फैसला पूरे सात साल की सुनवाई के बाद में पूरा होने जा रहा है. ये भारतीय क़ानून में विश्वास भी बनाता है

The mother of the guilty son apologized to Nirbhaya's mother and said - forgive my son

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.