इस एक चीज के सेवन थायराइड का होगा जड़ से सफाया, जल्दी जानिए

857

जब कोई व्यक्ति थायराइड नामक रोग से ग्रस्त होता है तो ऐसे में थायराइड ग्रंथि के ठीक से काम न करने से रक्त में मोजूद थायराक्सिन नामक हार्मोन के स्तर पर प्रभाव पड़ता है। इस प्रभाव की दो केटेगरी होती हैं हाइपरथायराइडिज्म और हाइपोथायाराइडिज्म। आज हम आपको थायराइड से बचने के ​कुछ घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं।

अलसी है कारगर

थायराइड नामक रोग छुटकारा पाने के लिए अलसी एक बेहतरीन नुस्खा है। अलसी में भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है। यह एसिड थायराइड ग्रंथि के सही तरीके से काम करने में जरूरी भूमिका निभाता है। जो लोग हाइपोथायरायडिज्म से पीड़ित हैं उन्हें अलसी और अलसी के तेल का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

loading...

अखरोट

अखरोट भी थायराइड का सफाया करने में मददगार है। सीफूड के अलावा काले अखरोट को भी आयोडीन का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। थायराइड की समस्या में आयोडीन एक आवश्‍यक पोषक तत्‍व है जो थायराइड ग्रंथि के स्वास्थ्य और कामकाज को ठीक रखने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

मुलेठी

मुलेठी का उपयोग अक्सर खांसी में किया जाता है। लेकिन आपको दें कि मुलेठी थायराइड ग्‍लैंड में संतुलन बनाने का काम भी करता है। इससे थायराइड से पीड़ित लोगों में होने वाली थकान एनर्जी में बदल जाती है। इसके अलावा मुलेठी में पाया जाने वाला ट्रीटरपेनोइड ग्लाइसेरीथेनिक एसिड बहुत आक्रामक होता है जो थायराइड कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकने में मदद करता है।

गेहूं

गेहूं में अनेक औषधीय और रोग निवारक गुण मोजूद होते हैं। गेहूं रक्त व रक्त संचार संबंधी रोगों को, रक्त की कमी होना, उच्च रक्तचाप होना, सर्दी, अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, साइनस और थायराइड ग्रंथि के रोग में कारगर है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.