आरबीआई के इस बदले नियम की वजह से बैंक धारकों पर होगा इसका असर

270

आरबीआई नेे जीरो बैलेंस खातों के जुड़े नियमों में बड़ा बदलाव किया है। इससे अब सभी खाताधारकों को चेक बुक और अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकेंगी। हालांकि बैंक इन सुविधाओं के लिए खाताधारकों को कोई न्यूनतम राशि रखने के लिए नहीं कह सकते। प्राथमिक बचत बैंक जमा खाता (बीएसबीडी) से आशय ऐसे बैंक खातों से है जिसे शून्य राशि से खोला जा सकता है। इसमें कोई न्यूनतम राशि रखने की जरूरत नहीं है।

after-this-decision-of-bitcoin-is-zero-bank-rbi-will-take-this-decision

इस अकाउंट में अब तक चेक बुक जैसी सुविधाएं नहीं मिलती थी। हालांकि इन खातों में एटीएम से एक महीने में चार बार निकासी की सुविधा मिलती थी।

इससे पहले नियमित बचत खाते जैसे खातों को ही यह सुविधा मिलती थी। इन खातों में न्यूनतम राशि रखने की जरूरत होती है और अन्य शुल्क भी देने होते हैं। चेक बुक सुविधाएं मिलने के बाद भी यह खाते गैर बीएसबीडी अकाउंट में नहीं बदले जा सकेंगे।

RBI Rules

अभी तक बीएसबीडी अकाउंट्स के नियमों के तहत बैंक खाताधारकों पर खाते में न्यूनतम बैलेंस रखने जैसी कोई बाध्यता नहीं होती है। इसके अलावा उन्हें कुछ सुविधाएं फ्री में मिलती हैं।

banks close atm at metro cities (2)

इन सुविधाओं में एटीएम कार्ड से एक महीने में चार बार फ्री में पैसा निकालने की छूट, बैंक की शाखा में जाकर पैसे जमा करने की छूट है। नियमों को बदलने के बाद अब बीएसबीडी खाते में एक महीने में कितनी भी बार पैसे जमा किया जा सकेगा।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.