शिव और शनि का हुआ आगमन 11 से 16 20021 इन 2 राशियों पर रहेगी इनकी नजर होने वाला है कुछ ऐसा

608

शनि का स्वभाव क्रूर और अलगाववादी परवर्ती वाला होता है अगर किसी को शनि की साढ़ेसाती चल रही है तो उसके प्रभाव देखने को मिलते हैं शनि का शुभ अशुभ प्रभाव उसकी कुंडली पर निर्भर करता है शुभ शनि अपने साढ़ेसाती और ढैय्या में जातक को खुशियाँ प्रदान करते हैं वही अशुभ शनि साढ़ेसाती और ढैय्या में जातक को ऐसे दर्द देते हैं उसको सहना मुश्किल हो जाता है।

The arrival of Shiva and Shani will be on these two zodiac signs from 11 to 16 20021.

2021 में धनु, और तुला राशि वाले जातक पूरे साल शनि की साढ़ेसाती से प्रभावित रहेंगे साल 2021में शनि की ढैय्या से प्रभावित रहेंगे।

loading...

शनि के दोषो से मुक्ति के लिए प्रत्येक शनिवार को अपनी छाया दान करें एक कटोरी में लोहे की कटोरी में तेल भरकर उसमें अपना मुख देखकर उस तेल की कटोरी को शनि के मंदिर में दान करदे इसके अलावा शनिवार शनिवार को सात बादाम शनि मंदिर में चढ़ाएं और किसी लंगर या भंडारे में शनिवार को कोयले का दान करें।

दशरथ स्त्रोत का पाठ करने से भी शनि की पीड़ा से मुक्ति मिलती है इसके अलावा शनिवार को चीटियों को चीनी मिश्रित आटा डाले , पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं।

सोमवार को शनिवार को काले तिल से भगवान शिव का अभिषेक करने से कर्ज और शनि के प्रभाव से मुक्ति मिलती है प्रत्येक पक्ष के प्रथम शनिवार को काले अथवा नीलेकंबल जरूरतमंद को दान करें शनि से डरे ना बल्कि अपने कर्मों को सही रखे

अगर आप महादेव के सच्चे भक्त है तो कमेंट बॉक्स में “हर हर महादेव” जरूर लिखें.

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.