आम आदमी को किन्नर के अंतिम संस्कार में क्यों नहीं बुलाया जाता