मानव शरीर से जुड़ी कुछ आश्चर्यजनक जानकारियां

124

हम अपने मानव शरीर के बारे में ज़रूरी और नार्मल चीज़े  तो सभी को मालूम  हैं, किन्तु मानव शरीर से ही जुड़े  कुछ वैज्ञानिक सच ऐसे हैं, जिन्हें बहुत कम लोग जानते हैं। ये ऐसे सच है जो हमें हैरान परेशान कर देने वाले हैं, लेकिन पता होने जरूरी हैं।

  • हमारी 1 आंख में 12,00,000 फाइबर होते हैं। अगर आप जिंदगी भर पलक झपकने का वक्त जोड़ेंगे, तो 1.2 साल का अंधेरा मिलेगा।हमारे घरों में मौजूद धूल के ज्यादातर कण हमारी डेड स्किन के होते हैं।
  • आंतों में इतने बैक्टीरिया मौजूद होते हैं कि उनको निकालकर एक कॉफी मग भरा जा सकता है।
  • आंख अकेला ऐसा मल्टीफोकस लेंस है, जो सिर्फ 2 मिली सेकेंड में एडजस्ट हो जाता है।
  • त्वचा में कुल 72 किलोमीटर नर्व होती है।
  • 75 फीसदी लिवर, 80 फीसदी आंत और एक किडनी बगैर भी इंसान जिंदा रह सकता है।
  • अगर आप जिंदगी भर पलक झपकने का वक्त जोड़ेंगे, तो 1.2 साल का अंधेरा मिलेगा।हमारे घरों में मौजूद धूल के ज्यादातर कण हमारी डेड स्किन के होते हैं।
  • व्यक्ति खाना खाए बिना कई हफ्ते गुजार सकता है, लेकिन सोए बिना केवल 11 दिन रह सकता है।
  • हाथ की 1 वर्ग इंच त्वचा में 72 फीट नर्व फाइबर होता है।
  • इंसान के कान 50,000 हर्ट्ज तक की फ्रीक्वेंसी सुन सकते हैं।
  • शरीर में दर्द 350 फीट प्रति सेकेंड की रफ्तार से आगे बढ़ता है।
  • वयस्कों के बालों को उनकी लंबाई से 25 फीसदी ज्यादा तक खींचा जा सकता है।
  • जिस हाथ से आप लिखते हैं, उसकी उंगलियों के नाखून ज्यादा तेजी से बढ़ते हैं।
  • मानव शरीर में 3-4 दिन में नई स्टमक (पेट) लाइनिंग बनने लगती है।
  • नवजात शिशु एक मिनट में 60 बार सांस लेता है | किशोर 20 बार और युवा केवल सोलह बार |
  • जब कोई मनुष्य छींकता है तो बाहर निकलने वाली हवा का वेग 160 किलोमीटर प्रति घंटा होता है मतलब एक्प्रेस गा़डी़ से भी अधिक स्पीड़।
  • किसी भी दुर्घटना होने पर हड्डियाँ ही सबसे अधिक टूटती हैं, पर जबड़े की हड्डी बड़ी मजबूत होती है |वह लगभग 280 किलो वजन भी सहन कर सकती है|
  • एक स्वस्थ युवा शरीर का मस्तिष्क 20 वाट विद्युत पैदा कर सकता है|

  • जब एक नवजात शिशु रोता है तो उसके आंसू नहीं आते क्यों कि तब तक उसकी अश्रुग्रंथियाँ विकसित नहीं होती है |
  • हमें हँसाने के लिए 17 स्नायुं का प्रयोग करना पड़ता है जबकि रोने के लिए 43 स्नायु काम में लेने पड़ते हैं |
  • हमारे शरीर में लोहा भी होता है इतना कि एक शरीर से प्राप्त लोहे से एक इंच की कील भी तैयार की जा सकती है |
  • शरीर में एपेंडिक्स .कशेरुका की बेकार हुई पूंछ कानों में कुलबुलाने वाली मांसपेशियां आदि किसी काम नहीं आते हैं |
  • खाना खाते समय जो अतिरिक्त हवा पेट में चली जाती है वह डकार बन कर वह आवाज करती है | कई लोग जम्हाई बड़ी आवाज़ के साथ लेते हैं | जब शरीर को पूरी आक्सीजन नहीं मिलती है तो जम्हाई ले कर शरीर में वह आक्सीजन की कमी पूरी की जाती है | हमारे पेट में हवा, पानी होते हैं जो गुड गुड आवाज करते रहते हैं इन्हें स्टोमेक ग्राउल कहा जाता है |
  • हिचकी भी एक बाडी नाईस है |डायफाम में यानी मध्य पट में तनाव की वजह से हिचकी आती है या एक मसल होती है जो फेफडों की हवा को बाहर भीतर भेजती है जब किसी कारण यह प्रोसेस रुक जाता है तो भीतर की हवा बाहर आने के लिए धक्का देती है तो ठिक्क की आवाज आती है।

  • एक वयस्क व्यक्ति के शरीर में 206 हड्डियाँ होती हैं जबकि बच्चे के शरीर में 300हड्डियाँ होती हैं (क्योंकि उनमें से कुछ गल जाती हैं और कुछ आपस में मिल जाती हैं)।
  • मनुष्य के शरीर में सबसे छोटी हड्डी स्टेप्स या स्टिरुप (stapes or stirrup) होती है जो कि कान के बीच में होती है तथा जिसकी लंबाई लगभग 11 इंच (.28 से.मी.) होती है।
  •  मनुष्य के शरीर में मोटोर न्यूरोन्स (motor neurons) सबसे लंबी सेल होती है जो कि रीढ़ की हड्डी से शुरू होकर पैर के टखने तक जाती है और जिसकी लंबाई 4.5फुट (1.37 मीटर)तक हो सकती है।
  •  मनुष्य की जाँघों की हड्डियाँ कंक्रीट से भी अधिक मजबूत होती हैं।
  •  मनुष्य की आँखों का आकार जन्म से लेकर मृत्यु तक एक ही रहता है जबकि नाक और कान के आकार हमेशा बढ़ते रहते हैं।
  •  आदमी एक साल में औसतन 62,05,000 बार पलकें झपकाता है।
  •  खाए गए भोजन को पचने में लगभग 12 घण्टे लगते हैं।
  •  मनुष्य के जबड़ों की पेशियाँ दाढ़ों में 200 पौंड (90.8 कि.ग्रा.) के बराबर शक्ति उत्पन्न करती हैं।
  •  अभी तक प्राप्त आँकड़ों के अनुसार सबसे भारी मानव मस्तिष्क का वजन 5 पौंड1.1 औंस. (2.3 कि.ग्रा..) पाया गया है।
  •  एक सामान्य मनुष्य अपने पूरे जीवनकाल में भूमध्य रेखा के पाँच बार चक्कर लगाने जितना चलता है।
  •  मनुष्य की मृत्यु हो जाने के बाद भी बाल और नाखून बढ़ते ही रहते हैं।

  •  मनुष्य की चमड़ी के भीतर लगभग45 मील (72 कि.मी.) लंबी तंत्रिकाएँ (नसें) होती हैं।
  • सबसे छोटी अस्थि स्टेपिज़ (मध्य कर्ण में)
  • सबसे बड़ी अस्थि फिमर (जंघा में)
  • कशेरुकाओं की कुल संख्या 33
  • पेशियों की कुल संख्या 639
  • सबसे लम्बी पेशी सर्टोरियास
  • बड़ी आंत्र की लम्बाई 1.5 मीटर
  • छोटी आंत्र की लम्बाई 6.25 मीटर
  • यकृत का भार(पुरुष में) 1.4 -1.8 कि ग्रा
  • यकृत का भार(महिला में) 1.2 -1.4 कि ग्रा
  • सबसे बड़ी ग्रंथि यकृत
  • सर्वाधिक पुनरुदभवन की क्षमता यकृत में
  • सबसे कम पुनरुदभवन की क्षमता मस्तिष्क में
  • शरीर का सबसे कठोर भाग दांत का इनेमल
  • सबसे बड़ी लार ग्रंथि पैरोटिड ग्रंथि
  • शरीर का सामान्य तापमान 18 .4*F (37*C)
  • शरीर में रुधिर की मात्रा 5.5 लीटर
  • हीमोग्लोबिन की औसत मात्रा: 12- 15·
  • पुरुष में 13-16 g/dl
  • महिला में 11.5-14 g /dl
  • WBCs की संख्या 4000-10000/cu mm.सबसे छोटी WBC लिम्फोसाइट
  • सबसे बड़ी WBC मोनोसाइट
  • RBCs का जीवन काल 120 दिन
  • रुधिर का थक्का बनाने का समय 2-5 दिन
  • सर्वग्राही रुधिर वर्ग AB
  • सर्वदाता रुधिर वर्ग O
  • सामान्य रुधिर दाब 120/80 Hg
  • सामान्य नब्ज़ गति 70- 72
  • जन्म के समय 140 बार -मिनट
  • 1 वर्ष की आयु में 120 बार -मिनट
  • 10 वर्ष की आयु में 90 बार -मिनट
  • व्यस्क में 70 बार -मिनट
  • हृदय गति 72 बार -मिनट
  • सबसे बड़ी शिरा एन्फिरियर
  • सबसे बड़ी धमनी 42-45 cm .
  • वृक्क का भार 42-45 cm .
  • मस्तिष्क का भार 42-45 cm .
  • मेरु दंड की लम्बाई 42-45 cm
  • मनुष्य के शरीर के भीतर रक्त प्रतिदिन 60,000 मील(96,540 कि.मी.) दूरी की यात्रा करता है।

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

बॉडी बिल्डिंग करने वाले इस फेसबुक पेज पर पा सकते हैं अच्छी जानकारी पायें Body Building And Fitness India 

loading...

loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.