स्मरण शक्ति बढाने के कुछ घरेलु उपाय

0 54

चित्त चंचल होने से ध्यान केन्द्रित करने में परेशानी होने लगती है और यही स्मरण लोप का प्रमुख कारण है कि हम किसी चीज को महत्त्व देकर नहीं देखते सोचते हैं.  नीचे दिए नुस्खे से आप अपनी स्मरण शक्ति बड़ा सकते है.

    • इसके लिए नाक के अग्र भाग पर आँखे केन्द्रित करने से फायदा होता है
    • होम्योपैथी दवा काली फोस की 6x पावर की 4-4 गोलियां दिन में दो बार एक चौथाई कप गुनगुने पानी के साथ सेवन करें
    • रात को 2 बादाम भिगो दें, सुबह शौचादि से निवृत्त होकर बादाम का छिलका उतार कर साफ़ पत्थर पर गिसें और गरम दूध में मिला कर सेवन करें. एक घंटे तक कुछ और सेवन ना करें, तत्पश्चात नित्य कर्म कर लें……
    • खरबुजे के छिले हुऐ बीज को घी मेँ भुनकर रखलेँ. रोजाना सुबह शाम खाने के बाद थोडे थोडे खाऐँ
    • आठ दस खजुर रोज दुध मेँ उबालकर पीने से स्मरण शक्ति बढती हैँ
    • ढाई सौ ग्राम दुध मेँ दो चम्मच मुलहठी का चुर्ण डालकर कुछ दिनोँ तक पीने से लाभ होता हैँ
    • पीपल के पेड की छाल पीसकर इसे दो चम्मच शहद या पानी साथ ले
    • रोज एक कप चुकन्दर का रस पीने से याद्दाश्त तेज होती हैँ और मस्तिक संबंधित विकार दुर होते हैँ
    • सुबह खाली पेट आँवले का मुरब्बा खाऐँ कुछ देर तक उपर से पानी या दुध नहीँ पीए
    • माथे कनपटी सिर और पैँरो के तलवोँ पर रोजाना रोजाना गाय के घी की मालिस से मस्तिक की दुर्बलता कम होती हैँ
    • दिन मेँ कुछ मिनट के लिए सब कुछ भुलकर ध्यान लगाए .।.
    • रोज दो चम्मच गेहुँ के ज्वारे का रस पिए .
    • बेल का शर्बत और मुरब्बा स्मरण शक्ति बढाता हैँ
    • पिस्ता और तिल की बर्फी भी फायदा करती हैँ .

loading...

loading...