भाभी का करता रहा रेप , शादी का भी किया वादा , जाने इसके आगे क्या हुआ ?

971

उत्तराखंड से अपराध का मामला सामने आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, यह मामला हल्द्वानी जिले का है। जहां एक व्यक्ति को उसकी शादी के दिन पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वनभूलपुर पुलिस ने उसकी  भाभी की शिकायत के आधार पर दूल्हे को गिरफ्तार किया।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें

इस मामले में, पुलिस ने कहा कि गिरफ्तार व्यक्ति की भाभी ने दूल्हे पर बलात्कार का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं बल्कि पीड़ित महिला ने अपनी सास के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कराया है। अब शादी रद्द हो गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, वनभूलपुरा थाना क्षेत्र में रहने वाली महिला की शादी पांच साल पहले पुलभट्टा जिले के उधम सिंह नगर में हुई थी। थाने में दी गई शिकायत के अनुसार, पीड़िता के पति की बीमारी के कारण एक साल पहले मौत हो गई थी। पति की मौत के ढाई महीने बाद उसने एक बेटे को जन्म दिया। वह दो बच्चों के साथ अपने ससुराल में रह रही थी।

Sister-in-law was raped, also promised marriage, what happened next? भाभी

loading...

इस बीच, वर्ष 2019 में, दशहरे के दूसरे दिन, उसके देवर ने रात में उसके कमरे में प्रवेश किया और उसके साथ बलात्कार किया।

पीड़िता ने इसकी जानकारी अपनी सास को दी।

अब इस मामले में यह आरोप लगाया गया कि उसने अपने बलात्कारी से शादी

करने के लिए कहकर उसे चुप करा दिया।

वह शादी का बहाना कर उसका हर दिन शोषण करता रहा,

लेकिन इसी बीच पता चला कि युवक की किसी और से शादी होने वाली है।

जब पीड़िता ने शादी की बात कही तो सास, ससुर और देवर ने उसके साथ मारपीट की

और पिछले महीने 20 मई को उसे जान से मारने की धमकी देकर घर से निकाल दिया।

उसके बाद, बुधवार को उनकी शादी होनी थी, जिसे अब रद्द कर दिया गया है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.