श्रद्धा हत्याकांड, मुझे फाँसी भी हो जाए तो कोई ग़म नहीं जन्नत में जाऊँगा वहाँ हूर पाऊँगा, सिर्फ हिन्दू लड़कियों को निशाना बनाया गया

0 107

श्रद्धा हत्याकांड में चौंकाने वाले और बड़े अपडेट सामने आए हैं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पॉलीग्राफ टेस्ट में आफताब के बयान से उसकी कट्टर मानसिकता का पता चला है, वह हिंदू लड़कियों को फंसाने की साजिश कर रहा था. उसे फंसा रहा था और यह प्रक्रिया चल रही थी। आफताब का कहना है कि वह श्रद्धा के अलावा कुछ अन्य हिंदू लड़कियों के भी संपर्क में था। पॉलीग्राफी टेस्ट में चौंकाने वाले तथ्य सामने आ रहे हैं।

जांच में चौंकाने वाले तथ्य

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पॉलीग्राफ टेस्ट में पूछताछ के दौरान आरोपी आफताब पूनावाला ने कहा है कि ‘भले ही उसे श्रद्धा वकार की हत्या के आरोप में फांसी दी जाए, उसे इसका पछतावा नहीं होगा, क्योंकि मरने के बाद वह जन्नत में जाएगा जहां’ वह सुख साहिबी को खोज लेगा। आफताब ने कहा कि श्रद्धा ही नहीं उसके जैसी करीब 20 हिंदू लड़कियों से उसके संबंध थे।

उसके 20 हिंदू लड़कियों से संबंध थे

आफताब खासतौर पर ‘बंबल ऐप’ पर हिंदू लड़कियों की तलाश कर रहा था। इस मामले में आरोपी आफताब ने खुलासा किया कि वह विशेष रूप से ‘बंबल ऐप’ पर हिंदू लड़कियों को खोजता था और उन्हें अपना शिकार बनाता था, श्रद्धा की हत्या करने के बाद वह एक मानसिक रोगी लड़की को अपने कमरे में ले आया, वह भी एक हिंदू लड़की थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ऐसा ही कहा जा रहा है.

आफताब के चेहरे पर अपने किए पर कोई पछतावा नहीं है

जब तक आफताब रिमांड पर था, वह नियमित रूप से पुलिस को गुमराह करता रहा और चेहरे पर अपने किए पर कोई पछतावा नहीं दिखा। पूछताछ खत्म होने के बाद वह जेल के अंदर चैन से सो भी रहा था, वहीं इस स्थिति को देखते हुए पुलिस अब आफताब का नार्को टेस्ट कराना चाहती है, जबकि श्रद्धा के शरीर से अब तक 13 हड्डियां बरामद हो चुकी हैं

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply