बेटी का फ्यूचर सिक्योर करें इस योजना से मिलेगा इतने लाख का फायदा

139

बेटी को अभी भी हमारे समाज में बोझ के रुप में देखा जाता है। हर परिवार को अपनी बेटी की चिंता होती है कि उसका फ्यूचर कैसे सिक्योर करें। अगर आपको भी ये टेंशन है तो पंजाब नेशनल बैंक आपकी बेटी को एक खास सुविधा दे रहा है। जिससे आप अपनी बेटी के लिए 15 लाख रुपये तक का बचत कर सकते हैं। इसकी हर एक जानकारी पीएनबी के ऑफिशियल वेबसाइट पर मौजूद है। इस स्कीम का नाम है सुकन्‍या समृद्धि योजना, जिससे आप एक अकाउंट खुलवा कर 15 लाख तक सेव कर सकते हैं।

इस योजना की शुरुआत सरकार ने ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ‘ के कैंपेन के तौर पर शुरू की थी। इस योजना का फायदा पेरेंट्स या गार्जियन अपनी बेटी के नाम पर अकाउंट ओपन कराकर ले सकते हैं। बता दें एक बेटी है तो आप एक अकाउंट ओपन करवा सकते हैं और दो है तो दो अकाउंट खुलवा सकते हैं।

Secure the future of the daughter, this scheme will get the benefit of so many lakhs

कितना कराना होगा जमा

सुकन्या समृद्धि योजना का फायदा उठाने के लिए अकाउंट में मिनिमम डिपॉजिट 250 रुपये जमा करना होता है। ज्यादा से ज्यादा इसमें आप 1,50,000 रुपये तक डिपॉजिट कर सकते हैं। इस अकाउंट को ओपन करने के बाद आप

अपनी

सुपरगर्ल की पढ़ाई का खर्च उठा सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ओपनिंग डेट से लेकर 21 साल की उम्र में या 18 साल से ज्यादा होके बाद शादी के समय अकाउंट मेच्योर होता है। यह अकाउंट शादी की तारीख से एक महीने पहले या तीन महीने बाद मेच्योर होता है।

यानी इस समय आप अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं।

कौन से डॉक्युमेंट कराने होंगे जमा

अब आप सोच रहे होंगे कि सुकन्या समृद्धि योजना के लिए क्या-क्या डॉक्यूमेंट चाहिए। बता दें बेटी के नाम पर सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट खोलने के लिए बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट, माता-पिता या डिपोजिटर की आईडी प्रूफ और एड्रेस प्रूफ की जरूरत होगी। आप बैंक या पोस्ट ऑफिस में अकाउंट ओपन कर सकते हैं।

हर महीने 3000 रुपए यानी सालाना अगर आप 36000 रुपए इन्वेस्ट करते है तो आपको 14 साल के बाद 7.6 पर्सेंट सालाना कंपाउंडिंग के हिसाब से आपको 9,11,574 रुपये मिलेंगे। 21 साल यानी मेच्योरिटी पर यह रकम करीब 15,22,221 रुपये होगी।

👉 Important Link 👈
👉 Join Our Telegram Channel 👈
👉 Sarkari Yojana 👈

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.