centered image />

शनि का बृहस्पति राशि पर शुरू होने जा रहा है परिवर्तन, देखें आपकी राशि है या नहीं और क्या होगा असर, पढ़ें उपाय

0 508
Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

शनि वर्तमान में मकर राशि में परिवर्तन कर रहा है, लेकिन वर्ष 2022 से यह कुंभ राशि में परिवर्तन करना शुरू कर देगा। जानिए शनि के राशि परिवर्तन से शनि किस राशि से शुरू होगा।

शनि साढ़े साती 2022:

शनि की राशि हर ढाई साल में बदलती है। इस प्रकार शनि अपनी राशि लगभग 30 वर्ष में पूर्ण करता है। ज्योतिष के अनुसार शनि को सभी ग्रहों में सबसे धीमी गति से चलने वाला ग्रह माना जाता है। जब भी शनि का परिवर्तन होता है तो यह 5 राशियों के लोगों को एक साथ प्रभावित करता है। शनि इस समय मकर राशि में गोचर कर रहा है, लेकिन वर्ष 2022 से यह कुम्भ राशि में परिवर्तन करना शुरू कर देगा। जानिए शनि के राशि परिवर्तन से शनि की साढ़े साती किस राशि से शुरू होगी।

शनि कब राशि परिवर्तन करेगा?

शनि 29 अप्रैल 2022 से अपनी राशि कुंभ राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं और 29 मार्च 2025 तक इस राशि में मौजूद रहेंगे। इस बीच, शनि अपने पिछले चरण में मकर राशि में एक संक्षिप्त संक्रमण करेगा। इस ट्रांसफर की अवधि कुछ महीने की होगी। शनि 12 जुलाई 2022 से मकर राशि में लौट आएंगे और 17 जनवरी 2023 तक इसी राशि में रहेंगे। इसके बाद वह कुंभ राशि में लौट आएंगे।

इस राशि पर शुरू होगी शनि की साढ़े साती: जैसे ही शनि कुम्भ में प्रवेश करेगा, मीन राशि पर शनि की साढ़े साती शुरू हो जाएगी । मीन राशि का स्वामी ग्रह बृहस्पति माना जाता है। इस राशि के जातकों के साथ शनि के अच्छे संबंध होने से शनि की दशा का बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है। वहीं शनि के राशि परिवर्तन के बाद शनि धनु राशि के लोगों से दूर हो जाएगा। जबकि इसका प्रभाव मकर और कुंभ राशि पर पड़ेगा।

शनि की साढ़े साती के दौरान क्या करें?

शनि दशा के दौरान शनिदेव की पूजा करनी चाहिए। हर शनिवार को मंदिर जाकर शनिदेव की मूर्ति पर सरसों का तेल लगाना चाहिए। पीपल के पेड़ की पूजा करनी चाहिए। शनि से संबंधित वस्तुओं का दान करना चाहिए। बड़ों का सम्मान करना चाहिए। जरूरतमंदों की मदद करनी चाहिए। सब कुछ सावधानी से करना चाहिए।

Join Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
Ads
Ads
Leave A Reply

Your email address will not be published.