बवासीर की समस्या को पल में दूर करे मूली के पत्तों और भी कई बीमारियाँ,को दूर करे देखे

2,519

मूली तो सभी ही खाते हैं, और अब तो सर्दियों का मौसम शुरू होने वाला है, इस मौसम में बाजार में खूब मूली आती है, तो इस बार जब आप मूली घर लेकर आयें तो पत्ते फेंके नही, क्योंकि हम आपको बता दें कि मूली के पत्ते मूली से भी ज्यादा फायदेमंद होते हैं, अगर इन पतों को सुबह खाली पेट सेवन किया जाये तो बहुत से हेल्थ बेनिफिट्स मिलते हैं,

12th पास दिल्ली पुलिस नौकरियां 2019: 554 हेड कांस्टेबल पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

DSSSB में निकली फायरमेन पदों पर 10वीं  पास लोगो के लिए दिल्ली में नौकरी – Apply Online for 706 Posts

SAIL  बिहार में अभी हो रही है 10वीं पास लोगो के लिए भर्तियाँ – सैलरी भी आपके मुताबिक- आवेदन करें

दसवीं पास वालों के लिए CISF कांस्टेबल और ट्रेडमैन में आई बम्पर भर्ती – देखें पूरी जानकारी

loading...

1- इन पत्तों में आयरन, कैल्शियम, फोलिक एसिड, फॉस्फोरस, विटामिन सी, मिनरल्स और फाइबर जैसे कई पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं, मूली को गुणों का खजाना कहा जाये तो शायद गलत नही होगा, अगर आपको एनीमिया है जिससे थकान रहती है और हाथों पैरों में दर्द रहता है तो मूली के पत्ते खाने से बहुत लाभ होगा, क्योंकि इसमें आयरन और फोलिक एसिड मौजूद होता है, जो रक्त के निर्माण में तेजी लाते हैं।

2- यह खून को साफ करने में कारगर होता है, इनमे एंटीबैक्टीरियल और एंटीमाइक्रोबियल गुण भी होते हैं, इसलिए ये खून से सारे टॉक्सिंस को बाहर निकल देते हैं।

3- यह बवासीर की समस्या भी खत्म करते हैं, इसके लिए आप मूली के पत्तों को कच्चा खा सकते हैं, या फिर इनका जूस या सब्जी बनाकर भी खा सकते हैं, इन्हें किसी भी तरह से सेवन करने से बबवासीर की समस्या दूर हो जाती है।

4- पीलिया में भी मूली के पत्ते लाभदायक साबित होते हैं,आप चाहें तो इसका जूस भी पी सकते हैं।

5 – मूली के पत्ते लीवर के लिए किसी वरदान से कम नही होते हैं, मूली के पत्तों का सेवन करने से लीवर से सम्बन्धित बीमारियाँ नहीं होती हैं।

6 – अगर पेशाब सम्बन्धी कोई भी समस्या है तो मूली के पत्तों को हर सुबह खाली पेट खाने से ये समस्या कुछ ही दिनों में दूर हो जाती है।

 

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.