गर्भवती महिला गर्भावस्था के दौरान रखे इन बातो का ध्यान, जल्दी जानिए

356

माँ बनाने का सपना हर महिला का होता है क्योंकि महिला का जीवन तभी पूर्ण होता है जब वह माँ बनती है। मां बनना हर महिला के लिए जिंदगी का सबसे खूबसूरत एहसास होता है। जब कोई महिला पहली बार गर्ब धारण करती है तो यह पल उसके लिए ही नहीं बल्कि उसके परिवार के लिए भी खुशियों से भरा होता है।

महिला जब पहली बार गर्ब धारण करती है तो उसके शरीर में कई तरह के बदलाव शुरू हो जाते है। इसलिए गर्बवती महिला को अपने और पेट में पल रहे शिशु के स्वास्थय के लिए कुछ सावधानिया जैसे रहन-सहन खान-पान चलना-फिरना आदि पर ध्यान देना चाहिए। क्योंकि गर्बावस्था के दौरान गर्भवती महिला के खान पान, रहन सहन का सीधा असर पेट में पल रहे शिशु पर पड़ता है। आज हम आपको बता रहे है गर्भवती महिला को गर्भावस्था के दोरान किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए

गर्भवती महिला खानपान का रखें खास ध्यान – गर्भवती महिला को गर्बावस्था के दौरान खाने पिने की चीजों का विशेष ध्यान देना चाहिए क्योंकि उसके खाने पिने का सीधा असर उसके गर्भ में पल रहे शिशु पर पड़ता है। इसलिए अधिक से अधिक फल व हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए ताकि माँ और गर्भ में पल रहा बच्चा दोनों पूरी तरह स्वस्थ रहे और प्रेग्नेंसी में किसी भी प्रकार की परेशानी न हो।

नियमित चेकअप कराये – गर्बवती महिला को अपने और अपने पेट में पल रहे बच्चे के स्वास्थय के लिए एक अच्छे से डॉक्टर से नियमित चेकअप कराते रहना चाहिए। तथा समय समय पर लगने वाले ठीके भी लगवाने चाहिए। जिससे आप भी स्वस्थ रहेगी और गर्भ में पल रहे बच्चे का भी शारीरिक विकास ठीक से होगा।

पॉजिटिव सोच बनाये -गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला हमेशा पॉजिटिव सोच रखे अर्थात अच्छा सोचना किसी के प्रति घृणा नही रखना धार्मिक कहानियां पढ़ना बड़े बूढ़ों का आदर करना आदि। क्योंकि पुरानी कहावत है कि गर्भवती महिला गर्भावस्था के दौरान जैसी फीलिंग रखती है ठीक वैसे ही होने वाले बच्चे में गुण होते है।

loading...

दूध व दूध से बानी चीजे खाये – गर्भवती महिला को रोजाना दूध पीना चाहिए व दूध से बनी सभी चीजें खानी चाहिए।क्योंकि इनके सेवन से शरीर मे कैल्शियम की कमी नही आती है। गर्भावस्था के लास्ट महीने में केसर व बादाम वाला दूध जरूर पीना चाहिए।ऐसा करने से आपका होने वाला बच्चा स्वस्थ सुन्दर व गोरा होगा।

अनार व गाजर का सेवन – अनार व गाजर में आयरन की बहुत ही अच्छी मात्रा होती है। इनको खाने व जूस पीने से खून में हिमोगलिबिन की मात्रा बढती है।इसलिए गर्भवती महिला को गर्भावस्था के दौरान शुरू से लास्ट महीने तक अनार व गाजर का सेवन जरूर करना चाहिए।

पूरी नींद लें व खूब पानी पिये –

गर्भवती महिला को दिन में कभी भी सोना नही चाहिए क्योंकि दिन में सोने से होने वाला बच्चा आलसी होता है। गर्भवती महिला को रात में कम से कम 8 घंटे सोना चाहिए। गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला को दिन में तीन से चार लीटर तक पानी पीना चाहिए। ऐसा करने से प्रेगनेंसी में किसी प्रकार की परेशानी नही आती है।

पपीता व अन्नानास न खाये- गर्भवती महिला को पपीता व अन्नानास का फल व इसका जूस भूलकर भी नही पीना चाहिए।क्योंकि पपीता व अन्नानास में विटामिन सी होता है जिसकी वजह से गर्भपात होने का ख़तरा रहता है।

सेक्स में सावधानी बरतें – गर्भवती महिला को गर्भावस्था के दौरान सेक्स करने में सावधानी बरतनी चाहिए क्योंकि असुरक्षित व अधिक सेक्स करने से भी गर्बपात का ख़तरा रहता है।

धूम्रपान न करे -गर्भवती महिला को शराब व सिगरेट का सेवन नही करना चाहिए तथा फ़ास्ट फ़ूड (चटपटी चीजे) नही खानी चाहिए क्योंकि इनके सेवन से गर्ब गिरने का डर रहता है

व्यायाम व उपवास न करे – गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला को व्यायाम व उपवास नही करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से गर्भ में पल रहे शिशु को तकलीफ होतीं है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.